राहील के बाद पाकिस्तान का अगला आर्मी चीफ कौन, माथापच्ची में जुटे नवाज

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

इस्लामाबाद। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ देश के नए आर्मी चीफ को लेकर माथापच्ची में जुटे हुए हैं। ऐसा इसलिए क्योंकि पाकिस्तान के सेनाध्यक्ष राहील शरीफ का कार्यकाल खत्म होने वाला है।

nawaj raheel

पाकिस्तान के अगले आर्मी चीफ के माथापच्ची

नवंबर में पाकिस्तान के आर्मी चीफ राहील शरीफ का कार्यकाल खत्म हो रहा है। उन्होंने साफ कर दिया है कि वो अब इस पोस्ट पर नहीं रहना चाहते। उन्होंने हटने का फैसला कर लिया है। ऐसी सूरत में पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नए सेनाध्यक्ष की खोज में जुट गए हैं।

पाकिस्तान को ठिकाने लगाने का एकदम सही बैठ रहा पीएम मोदी का दांव!

नवाज शरीफ के सामने समस्या ये है कि भारत और अमेरिका लगातार उन्हें घेर रहे हैं। आतंकवाद के मुद्दे पर भारत ने संयुक्त राष्ट्र समेत दुनिया के दूसरे मंचों पर पाकिस्तान को अलग-थलग करने की योजना बनाई है।

इन हालात में पाकिस्तान के पीएम नवाज शरीफ चाहते हैं कि इस पद पर ऐसा शख्स बैठे जो इन हालातों पर पकड़ बना सके। इस बीच नवाज शरीफ के सामने खतरा है कि कहीं कोई आर्मी से जुड़े अधिकारी ही सरकार के खिलाफ मुश्किलें न बढ़ा दें।

आर्मी चीफ के लिए चार नामों के सामने आने की चर्चा

आम तौर पर पाकिस्तान में आर्मी चीफ जनरल के पास कई शक्तियां होती हैं। उन पर अपराध, भ्रष्टाचार और इस्लामिक आतंकी हिंसा को काबू करने का दारोमदार होता है। इसके अलावा आर्मी चीफ जनरल के पास सरकार के जरिए सुरक्षा नीति को बनाने पर भी नजर होती है।

ITBP हेडक्वार्टर की दीवार से टकराया संदिग्ध ट्रक, मचा हड़कंप

ऐसे में ये कयास लगाए जा रहे हैं कि आर्मी चीफ को लेकर नवाज शरीफ अपने किसी करीबी पर ही विचार कर सकते हैं। इस बीच पाकिस्तानी आर्मी के प्रवक्ता असीम बजवा ने बताया कि आपसे अनुरोध है कि कोई धारणा मत बनाइये क्योंकि हमने पहले से ही फैसला कर लिया है।

प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के तीन करीबी सूत्रों और एक वरिष्ठ सेना के अधिकारी ने बताया कि मिलिट्री हाईकमांड ने प्रधानमंत्री को चार प्रमुख दावेदारों का डोजियर भेजा है।

सेना की ओर से नहीं दी जा रही कोई जानकारी

प्रधानमंत्री के सबसे करीबी सहयोगी के मुताबिक लेफ्टिनेंट जनरल जावेद इकबाल रामडे का नाम सबसे आगे हैं। वह XXXI सेना के कमांडर हैं।

भारत के बाद अब बांग्लादेश, भूटान और अफगानिस्तान ने भी सार्क सम्मेलन में जाने से किया मना

उन्होंने 2009 में पाकिस्तानी तालीबानी आतंकियों के खिलाफ आंदोलन का नेतृत्व किया था। ये ऑपरेशन अफगानिस्तान की सीमा पर स्वात घाटी में चलाया गया था।

इनके अलावा तीन अन्य डोजियर में जनरल स्टाफ के मुखिया लेफ्टिनेंट जनरल जुबैर हयात का नाम शामिल है। इनके अलावा मुल्तान के कमांडिंग ऑफिसर लेफ्टिनेंट जनरल इशफाक नदीम अहमद और सेना के ट्रेनिंग और मूल्यांकन विंग के मुखिया लेफ्टिनेंट जनरल कमर जावेद बजवा का नाम शामिल है।

आर्मी चीफ के लिए सबसे आगे लेफ्टिनेंट जनरल रामडे

इनमें लेफ्टिनेंट जनरल रामडे पाकिस्तानी आर्मी चीफ के पद के लिए सबसे आगे बताए जा रहे हैं। इसकी वजह भी है क्योंकि उनके परिवार के सदस्य नवाज शरीफ की पार्टी पाकिस्तान मुस्लिम लीग (पीएमएलएन) में शामिल हैं। वह राहील शरीफ की तरह ही कई सुरक्षा अधिकारियों के बीच लोकप्रिय भी हैं।

नहीं मिली एंबुलेंस, शव को प्लास्टिक बैग में लेकर जाने को मजबूर हुए परिजन

फिलहाल अभी ये साफ नहीं है कि पाक आर्मी चीफ राहील शरीफ के पद छोड़ने के बाद कौन उनकी जगह लेगा।

पाकिस्तानी आर्मी की मीडिया विंग भी इस मुद्दे पर कुछ कहने से बच रही है। हालांकि ये तो तय है कि इस पद पर वही बैठेगा जो प्रधानमंत्री नवाज शरीफ का करीबी होगा।

देश-दुनिया की तबरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Pakistan Army Chief Tenure Nears End, Pak PM faces key choice country military.
Please Wait while comments are loading...