ICJ में करारी हार के बाद पाकिस्‍तान अब नई लीगल टीम के साथ लड़ेगी कुलभूषण जाधव का केस

By:
Subscribe to Oneindia Hindi

इस्‍लामाबाद। पाकिस्‍तान अब इंटरनेशनल कोर्ट ऑफ जस्टिस (आईसीजे) में नई लीगल टीम के साथ कुलभूषण जाधप का केस लड़ेगी। गुरुवार को पाकिस्‍तान को इंटरनेशनल कोर्ट ऑफ जस्टिस (आईसीजे) से तगड़ा झटका लगा जब कोर्ट ने कुलभूषण जाधव की फांसी पर रोक लगा दी। इस फैसले के बाद पाकिस्‍तान में विपक्ष ने इस केस की पैरवी कर रही लीगल टीम को आड़े हाथों लिया है।

ICJ में करारी हार के बाद पाकिस्‍तान अब नई लीगल टीम के साथ लड़ेगी कुलभूषण जाधव का केस

हार का दोष पाक ने टीम पर मढ़ा

विपक्ष का कहना है कि लीगल टीम आईसीजे में ठीक तरीके से पेश नहीं किया गया है। पाक में विपक्ष का कहना है कि अब नई टीम इस केस को लड़ेगी। पाकिस्‍तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के विदेश मामलों के सलाहकार सरताज अजीज के हवाले से पाकिस्‍तानी मीडिया ने लिखा है कि अब नई लीगल टीम आईसीजे में पाकिस्‍तान का रुख पेश करेगी। अजीज के मुताबिक पाकिस्‍तान की सुरक्षा काफी अहम है और इसके लिए पाकिस्‍तान को अपने मौलिक अधिकारों की रक्षा करनी होगी। पाक मीडिया की मानें तो नई टीम सख्‍ती से आईसीजे में इस केस को लड़ेगी। वहीं पाकिस्‍तान के रिटायर्ड जज शाइक उस्‍मानी का कहना है कि आईसीजे में जाकर पाकिस्‍तान ने अपने ही पैर पर कुल्‍हाड़ी मार ली है। वहीं विपक्ष अब इस बहाने पाकिस्‍तान की नवाज सरकार पर निशाना साध रही है।

अगस्‍त में आएगा निर्णायक फैसला

इमरान खान की पार्टी तहरीक-ए-इंसाफ की नेता शिरीन माजारी ने कहा है कि विएना संधि में पक्षकार होने के नाते प्रोटोकॉल के तहत पाकिस्‍तान को सुनवाई से अपना नाम वापस ले लेना चाहिए। पाकिस्‍तान अब एक ब्रांड न्‍यू टीम के साथ आईसीजे में बहस करेगा। इस केस में अंतिम फैसला अभी आना बाकी है। माना जा रहा है कि अगस्‍त में फैसला आ सकता है और उस समय भारत भी इस केस के लिए अपना पूरा जोर लगाएगा। गुरुवार को आईसीजे ने पाकिस्‍तान को साफ-साफ कह दिया कि जब तक मामले में अंतिम फैसला नहीं आता त‍ब तक जाधव को फांसी नहीं होनी चाहिए। अगस्‍त में जाधव के केस में आईसीजे अंतिम फैसला सुना सकता है। भारत ने अपने तर्कों से पाकिस्‍तान को पहले दौर में चारों खाने चित्‍त कर दिया। भारत के लिए अब दूसरा दौर काफी नाजुक होने वाला है। 

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Many in the opposition not just slammed the Pakistan legal team for failing to beat India at the arguments, but also questioned the logic of even arguing the case before the ICJ.
Please Wait while comments are loading...