नवाज कर रहे हैं इंकार लेकिन पाक में हो चुकी है ISIS की एंट्री

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

इस्‍लामाबाद। पाकिस्‍तान के सरकार के मंत्री चौधरी निसार अली खान इस बात को मानने के लिए तैयार ही नहीं हैं कि उनके देश में आईएसआईएस की एंट्री हो चुकी है। हकीकत यही है कि आईएसआईएस पाक में दाखिल हो चुका है। पिछले शनिवार को बलूचिस्‍तान की एक दरगाह में हुआ ब्‍लास्‍ट आईएसआईएस की ही साजिश्‍स है। इस ब्‍लास्‍ट में 52 लोग मारे गए थे।

isis-in-pakistan

पढ़ें-पीओके में रिलीज राष्‍ट्रगीत, कश्‍मीर जो पाकिस्‍तान भी है

आईएसआईएस के नाम पर हमले

इस ब्‍लास्‍ट के बाद में पाक मौजूद आतंकी संगठन लश्‍कर-ए-झांगवी अल अलामी को दोषी बताया गया।

जबकि संगठन ने आईएसआईएस का नाम लेकर इन हमलों को अंजाम दिया थ। हाल ही में आईएसआईएस ने कुछ हमलों की जिम्‍मेदारी ली है और जिसकी साजिश लश्‍कर-ए-झांगवी ने ही तैयार की थी।

पढ़ें-मोसुल के पास मिली 100 लाशों की सामूहिक कब्र

अपने आतंकी नहीं भेजने से बचता आईएसआईएस

आईएसआईएस इस बात से वाकिफ है कि वह अपने लड़ाकों को पाकिस्‍तान में नहीं भेज सकता है क्‍योंकि यहां पर पहले से ही कई आतंकी संगठन मौजूद हैं।

ऐसे में संगठन पूरी तरह से यहां के स्थानीय संगठनों पर निर्भर है और उनके नाम पर हमलों को अंजाम देने में लगा हुआ है। अफगानिस्‍तान में जब आईएसआईएस ने एंट्री की थी तो उस समय भी इसी पैटर्न को फॉलो किया था।

पढ़ें-रक्का में ISIS की ओर से लड़ रहे हैं कई भारतीय

विचाराधारा को मानते आतंकी

शनिवार को जो ब्‍लास्‍ट हुआ उसकी जिम्‍मेदारी लश्‍कर-ए-झांगवी अल अलामी ने सीधे तौर पर नहीं ली थी।

हालांकि संगठन के प्रवक्‍ता की ओर से कहा गया था कि संगठन आईएसआईएस की मदद करता है और उसके नेतृत्‍व के साथ विचारधारा को भी मानता है।

पढ़ें-भारत में हो सकता है ISIS का हमला, अमेरिका की वॉर्निंग

आगे भी की जाएगी मदद

प्रवक्‍ता ने यह भी कहा कि उसका संगठन आगे भी जब कभी आईएसआईएस कोई हमले की साजिश करेगा, उसकी मदद करेगा। यह मदद प्रत्‍यक्ष और अप्रत्‍यक्ष दोनों तरीकों से होगी। आईएसआईएस संगठन से काफी खुश है।

माना जा रहा है कि आने वाले समय में वह और संगठनों की मदद लेगा। आईएसआईएस पाक में स्थित आतंकी संगठनों के साथ मिलकर काम करने को तैयार है। 

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Pakistan is in denial, but the very fact of the matter is that the ISIS is rising in the country.
Please Wait while comments are loading...