हाफिज सईद ने दी धमकी, अगर सिंधु का पानी रोका तो नदियों में बहेगा खून

जमात-उद-दावा और लश्‍कर-ए-तैयबा के चीफ हाफिज सईद ने दी भारत को सिंधु जल समझौता तोड़ने पर दी खामियाजा भुगतने की धमकी। कहा अगर खत्‍म करने के बारे में सोचा तो नदियों में बहेगा खून।

By:
Subscribe to Oneindia Hindi

लाहौर। जमात-उद-दावा (जेयूडी) और लश्‍कर-ए-तैयबा के सरगना हाफिज सईद ने एक रैली में भारत को धमकी दी है। इस बार हाफिज सईद की धमकी की वजह है भारत को सिंधु जल समझौते को खत्‍म करने पर विचार करना। हाफिज सईद ने कहा है कि अगर भारत ने इस संधि को खत्‍म करने के बारे में सोचा भी तो उसे इसका खामियाजा भुगतना पड़ेगा।

hafiz-saeed-indus-river-india-हाफिज-सईद-भारत-सिंधु-नदी

पीएम मोदी का नाम लेकर धमकी

हजारों लोगों की मौजूदगी वाली एक रैली में हाफिज ने यह धमकी दी है।मुंबई आतंकी हमलों के मास्‍टरमाइंड ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की आलोचना की। उसने कहा कि अगर भारत ने इस संधि को तोड़ने के बारे में सोचा भी तो फिर नदियों में खून बहेगा। सितंबर 2016 में उरी आतंकी हमले के बाद भारत ने सिंधु जल समझौता तोड़ने के बारे में विचार किया था। 25 नवंबर को प्रधानमंत्री मोदी ने कहा था कि सतलत, ब्‍यास और रावी नदियों पर पानी का अधिकार है। भारत इन नदियों के पानी को पाकिस्‍तान में जाने से रोकेगा। हाफिज सईद ने कहा कि हम कश्‍मीर की आजादी के लिए कश्‍मीरियों के साथ हैं और पाकिस्‍तान, कश्‍मीर के बिना अधूरा है। पढ़ें-हाफिज सईद का दावा, जम्‍मू में सर्जिकल स्‍ट्राइक में मारे 30 सैनिक

लाहौर से सिर्फ 130 किमी दूर रैली

लाहौर से 130 किलोमीटर दूर फैसलाबाद में कश्‍मीर कांफ्रेंस में यह धमकी दी है। हाफिज ने कहा कि इंडियन आर्मी 650,000 कश्‍मीरी मुसलमानों की हत्‍या की दोषी है। अब कश्‍मीरी मुजाहिदीन इंडियन आर्मी को अखनूर, उरी और दूसरी जगहों पर हमले करके इसका करारा जवाब दे रहे हैं। उसने कहा कि मुजाहिदीन अब भारत को तबाह करने में लगे हैं। भारत उन्‍हें उनका मिशन पूरा करने से नहीं रोक सकता है। यह सिर्फ अकेले मैं नहीं हूं बल्कि मेरे साथ अब बलूचिस्‍तान और दूसरे पाकिस्‍तानियों का भी साथ है। हाफिज का दावा है कि बलूच नेता शाहजीन बुगती ने उसके साथ हाथ मिला लिया है। पढ़ें-पीएम मोदी नवाज शरीफ को नहीं हाफिज सईद को देते हैं जवाब

बलूच नेता ने मिलाया हाफिज से हाथ

जम्‍हूरी वतन पार्टी के चेयरमैन बुगती ने रैली में कश्‍मीर के मकसद के लिए अपना समर्थन देने का ऐलान किया। उसने कहा कि बलूचिस्‍तान कश्‍मीर के लोगों के साथ है। बुगती ने कहा कि 50,000 बलूच युवा कश्‍मीर के आजादी संघर्ष में शामिल होने को रेडी हैं और वह इसके लिए हाफिज सईद के ग्रीन सिग्‍नल का इंतजार कर रहे हैं। कश्‍मीर कांफ्रेंस में बुगती जनजाति के नेता का शामिल होना भारत के लिए एक संदेश है कि बलूच लोग अब कश्‍मीर की आजादी के साथ हैं। सईद पर 10 मिलियन डॉलर का ईनाम है।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Lashkar-e-Taiba chief Hafiz Saeed has threaten India and said if India scraps Indus Treaty, there will be blood in rivers.
Please Wait while comments are loading...