हाफिज सईद का दावा, उसने जम्‍मू में सर्जिकल स्‍ट्राइक में मारे 30 सैनिक

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

लाहौर। लश्‍कर-ए-तैयबा और जमात-उद-दावा के मुखिया हाफिज सईद ने सोमवार को जम्‍मू कश्‍मीर के अखनूर स्थित जनरल रिजर्व इंजीनियरिंग फोर्स (जीआरईएफ) के कैंप पर हुआ आतंकी हमला उसके लड़ाकों ने किया था। सिर्फ

इतना ही नहीं सईद ने यह दावा भी किया कि उसने 30 लोगों को भी इस हमले में मारा है। हालांकि इंडियन आर्मी ने उसके दावे को बकवास करार दिया है।

hafiz-saeed-india-jammu-surgical-strke-हाफिज-सईद-सर्जिकल-स्‍ट्राइक-जम्‍मू.jpg

10 कैंपों में आतंकियों ने किया हमला

सईद ने यह दावा पीओके के मुजफ्फराबाद में हुई रैली में किया। इस रैली में लश्‍कर के आतंकी इकट्ठा थे और उनकी ही रैली को सईद ने संबोधित किया। अखनूर में जीआरईएफ कैंप जो हमला हुआ था उस में तीन कर्मी मारे गए थे। यह कैंप इंटरनेशनल बॉर्डर से सिर्फ दो किलोमीटर की दूरी पर था और हमले के समय कैंप में 10 मजदूर थे। हाफिज सईद को जो ऑडियो टेप आया उसमें वह कह रहा है, 'चार युवा लड़के कल के दिन से एक दिन पहले जम्‍मू के अखनूर के कैंप में दाखिल हुए। मैं अभी के बारे में बात कर रहा हूं यह कोई पुरानी बात नहीं है। यह सिर्फ दो दिन पहले घटी है।' उसने दावा किया कि चार युवा लड़के आर्मी कैंप में दाखिल हुए और उन्‍होंने 10 कैंपों में मौजूद सैनिकों को मार डाला। इसके बाद वह सुरक्षित वापस लौट आए उनको एक भी खरोंच नहीं आई है। हाफिज ने कहा, 'यह होती है सर्जिकल स्‍ट्राइक।' हाफिज के पीछे से हंसी की आवाज को साफ सुना जा सकता है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधते हुए उसने कहा कि लाइन ऑफ कंट्रोल के पार सर्जिकल स्‍ट्राइक की बात करके उन्‍होंने दुनिया से झूठ कहा है। पढ़ें-पीएम मोदी नवाज शरीफ को नहीं हाफिज सईद को देते हैं जवाब

मोस्‍ट वांटेंड आतंकी पाक में आजाद

हाफिज ने कहा, 'अगर उसे एक मौका मिले तो उसके मुजाहिदीन बताएंगे कि सर्जिकल स्‍ट्राइक क्‍या होती है। मैं आपको दो दिन पहले अखनूर में हुई सर्जिकल स्‍ट्राइक के बारे में बता रहा हूं। एक ऐसी जगह जम्‍मू जिसके बारे में भारत कहता है कि कोई भी यहां दाखिल होने की हिम्‍मत नहीं रखता है, वहां पर यह सर्जिकल स्‍ट्राइक हुई है। 10 कमरों में मौजूद 30 सैनिकों को हमारे लड़कों ने मारा है। कैंप को तबाह कर दिया गया और जला दिया गया और फिर वे सुरि‍क्षत वापस लौट आए। हाफिज सईद वर्ष 2008 में हुए मुंबई हमलों के लिए भारत का मोस्‍ट वांटेंड आतंकी है। यूनाइटेड नेशंस ने उसे आतंकी का दर्जा दिया हुआ है और फिर भी वह पाकिस्‍तान में खुलेआम घूमता है। वह कई बार भारत के खिलाफ रैलियों में जहर उगलता है। कुछ दिनों के लिए उसे नजरबंद रखा गया था लेकिन फिर लाहौर हाई कोर्ट ने उसे रिहा कर दिया।

देश-दुनिया की तबरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Lashkar-e-Taiba Cheif Hafiz Saeed has said that a terror attack in Akhnoor Jammu was carried out by his boys. However, Indian Army denied his claim.
Please Wait while comments are loading...