11 वर्षीय कश्मीरी बच्चे की मौत पर पाक ने कहा- यह भारतीय अत्याचार की निरंतरता का हिस्सा

Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। भारत के आंतरिक मामलों में दखल देते हुए पाकिस्तान ने फिर कश्मीर मामले में हस्तक्षेप किया है।

junaid

शनिवार (8) अक्टूबर को घाटी में पैलेट गन की चोट से मारे गए 11 वर्षीय जुनैद अहमद की मौत पर पाकिस्तान ने कहा कि यह देशीय आतंकवाद का सबसे खराब उदाहरण है।

संसद पर हमला कर सर्जिकल स्ट्राइक का बदला लेगा पाक!

यह भारतीय अत्याचार की निरंतरता

जुनैद की मौत की पर शोक प्रकट करते हुए पाकिस्तान विदेश मंत्रालय के दफ्तर ने दावा किया कि यह घटना कश्मीर पर भारतीय अत्याचार की निरंतरता का हिस्सा है।

हॉलीवुड एक्टर ने कहा- राष्ट्रीय आपदा हैं ट्रंप,उन्हें मुक्का मारना चाहता हूं

प्रेस विज्ञप्ति में कहा गया है कि यह नृशंस हत्या भारत के देशीय आतंकवाद का सबसे बुरा उदाहरण है। यह दुःखद है।

विदेश मंत्रालय ने कि कश्मीर के लोग अपने मूलभूत मानवाधिकारों की मांग कर रहे हैं। इसमें उनकी विशेष मांग संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के प्रस्ताव के तहत आजादी की है।

गंभीर स्थिति को संज्ञान में ले अंतरराष्ट्रीय समुदाय

कहा गया कि अतंरराष्ट्रीय समुदाय और संयुक्त राष्ट्र को कश्मीर में मानव अधिकारों के उल्लंघन, बढ़ती अत्याचार और कश्मीरियों के नरसंहार की गंभीर स्थिति को संज्ञान में लेना चाहिए।

अब न्यायधीशों को इस तरह से जज करेगी सरकार

बता दें कि जुनैद के सिर और सीने में पैलेट गन के छर्रे लगने के बाद उसे तुरंत अस्पताल ले जाया गया लेकिन गंभीर चोट के कारण शनिवार (8 अक्टूबर) को उसकी मौत हो गई।

जुनैद की मौत के बाद इलाके में जमकर विरोध प्रदर्शन हुए। जुनैद का शव उठाए लोगों ने भारत विरोधी नारे लगाए। बता दें कि विरोध प्रदर्शन के बाद श्रीनगर के कई हिस्सों में कर्फ्यू लगा दिया गया है।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
On death of junaid by pellet injury pak said it is worst example of state terrorism.
Please Wait while comments are loading...