26/11 के मास्‍टरमाइंड ने पाकिस्‍तान की मीडिया से कहा कश्‍मीर में आजादी की लड़ाई का बने हिस्‍सा

By:
Subscribe to Oneindia Hindi

फैसलाबाद। प‍ाकिस्‍तान आतंकवाद और साल 2008 में हुए मुंबई आतंकी हमलों को लेकर दुनिया से झूठ बोलना जारी रखे है। इसका नया सुबूत है पाकिस्‍तान के फैसलाबाद में मुंबई आतंकी हमलों के मास्‍टरमाइंड अब्‍दुल रहमान मक्‍की का मीडिया से मुखातिब होना। पिछले दिनों मक्‍की ने पाकिस्‍तान की मीडिया से अपील की है कि वह कश्‍मीर में अशांति को आगे बढ़ाए।

26/11 के मास्‍टरमाइंड ने पाकिस्‍तान की मीडिया से कहा कश्‍मीर में आजादी की लड़ाई का बने हिस्‍सा

कश्‍मीर की आजादी की बात

मक्‍की, लश्‍कर-ए-तैयबा के मुखिया और मोस्‍ट वांटेड आतंकी हाफिज सईद का साला है। जब से हाफिज सईद नजरबंद है, मक्‍की ने लश्‍कर और जमात-उद-दावा (जेयूडी) की कमान संभाली हुई है। मक्‍की ने फैसलाबाद में एक इफ्तार पार्टी रखी थी और इस पार्टी में कई पाक जर्निलिस्‍ट्स शामिल हुए थे। 17 जून को यू-ट्यूब पर एक वीडियो आया था और इस वीडियो में मक्‍की मीडिया के सामने कश्‍मीर की आजादी की बात करता हुआ नजर आ रहा है। साथ ही वह मीडिया से अपील भी कर रहा है कि मीडिया कश्‍मीर की आजादी की मुहिम को आगे बढ़ाए।

संगठन का मुखिया है मक्‍की

न्‍यूज एजेंसी एएनआई के मुताबिक मक्‍की ने मीडिया से कहा है कि वह इसलिए जर्नलिस्‍ट्स का समर्थन चाहता है क्‍योंकि उनके पास पेन और मीडिया की ताकत है। मक्‍की ने कहा कि इसलिए वह जर्नलिस्‍ट से अपील करता है कि वे अपने अनुभव और अपनी ताकत से कश्‍मीर की आजादी की लड़ाई को आगे बढ़ाएं और इसका हिस्‍सा बनें। फरवरी में मक्‍की को जेयूडी और लश्‍कर की कमान दी गई थी और इसके बाद मक्‍की ने संगठन को तहरीक-ए-आजादी जम्‍मू कश्‍मीर के नाम से रिलॉन्‍च किया। हाफिज सईद को पाकिस्‍तान की पंजाब सरकार ने नजरबंद करके रखा हुआ है। हाफिज सईद को 30 जनवरी को नजरबंद किया गया था। 

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
26/11 mastermind Abdul Rehman Makki was seen asking Pakistani Media to foster unrest in Kashmir. Makki is the brother-in-law of most wanted terrorist Hafiz Saeed.
Please Wait while comments are loading...