बीजेपी से मुकाबले का मास्टर प्लान, ममता बनर्जी ने नवीन पटनायक से की मुलाकात

Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। आखिर बीजेपी के बढ़ते जा रहे है प्रभाव को कैसे रोका जाए ? क्षेत्रीय दल इसी मंथन में जुटे है। आखिर वो कौन सा फार्मूला बनाया जाए जो अमित शाह के दिमाग को भी मात दे सके ? इसी सिलसिले में पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक की मुलाकात हुई है।गुरुवार को हुई इस मुलाकात के बाद ममता बनर्जी ने कहा कि बीजेपी का मुकाबला करने के लिए क्षेत्रीय दल मजबूत हैं।

बीजेपी से मुकाबले को हैं तैयार

बीजेपी से मुकाबले को हैं तैयार

ममता बनर्जी ने नवीन पटनायक के आवास पर उनसे 10 मिनट की मुलाकात के बाद संवाददाताओं से कहा कि बीजेपी से निपटने के लिए क्षेत्रीय दल पर्याप्त हैं। क्षेत्रीय दलों को बीजेपी से खतरे के सवाल पर पश्चिमी बंगाल की मुख्यमंत्री ने कहा कि उन्हें नहीं लगता कि उनसे खतरा है. उन्होंने कहा कि बीजेपी लोगों को और राजनीतिक दलों को बांटती है और क्षेत्रीय दल इस तरीके को नहीं अपनाते।ममता बनर्जी ने बीजेपी पर मंत्रियों और विधायकों को खरीदने का आरोप लगाया।

समाज को बांटना चाहती है बीजेपी

समाज को बांटना चाहती है बीजेपी

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ने कहा कि बीजेपी के लोग हिंदुओं, मुस्लिमों, ईसाइयों, सिखों, आदिवासियों और अनुसूचित जाति के लोगों में बंटवारा करते हैं. वे हिंदू समुदाय के अंदर भी विभाजन करते हैं, जबकि क्षेत्रीय दल ऐसा नहीं करते है।प्रस्तावित संघीय मोर्चे पर एक सवाल पर तृणमूल कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा, ‘यह मेरा सतत प्रयास है. हम क्षेत्रीय दलों को पसंद करते हैं और हम चाहते हैं कि क्षेत्रीय दल सतत बढ़ते रहें.' उन्होंने कहा कि संघीय ढांचे में क्षेत्रीय दल संविधान की व्यवस्था को मजबूत करते हैं।

तृणमूल- बीजद आ सकते हैं साथ

तृणमूल- बीजद आ सकते हैं साथ

बीजू जनता दल के सहयोग के सवाल पर उन्होंने कहा, ‘इस पार्टी के लिए उनके अंदर बहुत सम्मान है. आगामी राष्ट्रपति चुनाव पर उन्होंने कहा कि अभी इस बारे में कुछ कहना जल्दबाजी होगी।अगर ओडिशा के मुख्यमंत्री कोई नाम प्रस्तावित करते हैं तो वे उनसे बात करेंगी। मतलब साफ है राष्ट्रपति चुनाव में दोनों दल साथ आ सकते हैं।वहीं बातचीत में दोनों मुख्यमंत्रियों ने इस बात पर जोर दिया कि यह मुलाकात राजनीतिक नहीं बल्कि शिष्टाचार भेंट थी।आपको बता दें कि जुलाई में होने वाला राष्ट्रपति चुनाव 2019 के आम चुनाव का ड्राई रन माना जा रहा है। वहीं बीजेपी को घेरने को लेकर जेडीयू अध्यक्ष नीतीश कुमार ने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से मुलाकात की है।

धर्मेन्द्र प्रधान ने तंज कसा

धर्मेन्द्र प्रधान ने तंज कसा

ओडिशा में भाजपा के तेजी से हो रहे उदय के बीच जहां सत्ताधारी बीजद के अंदर ही टूटफूट के आसार बढ़ गए हैं। वहीं गुरुवार को मुख्यमंत्री नवीन पटनायक और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की मुलाकात को भी गठबंधन राजनीति के नजरिए से देखा जा रहा है।जबकि भाजपा नेता ओडिशा से आने वाले केंद्रीय पेट्रोलियम मंत्री धर्मेद्र प्रधान ने ट्वीट कर तंज किया कि यह मुलाकात दरअसल चिटफंड घोटाला दोषियों को बचाने के लिए परस्पर सहयोग के लिए है क्योंकि तृणमूल के दो गिरफ्तार सांसद भुवनेश्वर में ही हैं।

 

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
mamta banarjee meets naveen patnayak discused on future strategy
Please Wait while comments are loading...