तीन तलाक पर मस्जिदों में लगे पोस्टर, सात लाख का दिखाया डर

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

मुंबई। मुंबई के पुराने मुस्लिम इलाके की मस्जिदों में आजकल पोस्टर चस्पा हुए हैं। इन पोस्टरों पर तीन तलाक की बुराईयों का जिक्र किया गया है।

teen talak

पिछले कुछ से पूरे देश में तीन तलाक पर बहस हो रही है। मुस्लिम समुदाय में ज्यादातर औरतें और तरक्कीपंसद लोग तीन तलाक के खिलाफ हैं तो वहीं कुछ कट्टरपंथी इसके हक में खड़े हैं। इसको लेकर कई संगठन अपनी-अपनी तरह से काम भी कर रहैं। इस पर मुंबई में दिलचस्प मामला सामने आया है।

मॉडल ने बताई इस रात की दास्तां, जो हुआ उसके बाद बस शर्मिंदगी से रोया जा सकता था

दक्षिण मुंबई के पायधोनी में सार्वजनिक शिकायत केंद्र चलाने वाले सामाजिक कार्यकर्ता रजाक मनियार ने इलाके की मस्जिदों में पोस्टर लगाए हैं। एक दर्जन से ज्यादा मस्जिदों में लगे इन पोस्टरों में तीन तलाक को बुरा और अल्लाह के नजदीक एक खराबी बताया गया है।

इसमें लिखा गया है कि को कोई अपनी बीवी को फोन पर तीन तलाक देगा तो सेंटर उससे सात लाख रुपये उसकी पत्नी के लिए लेगा। दरअसल हाल ही में रजाक ने एक तलाक का केस सुलाझाया था, जिसमें तीन तलाक देने वाले पति को पत्नी को सात लाख रुपये देने पड़े।

 

सुप्रीम कोर्ट में है तीन तलाक का मामला

तलाक के बाद कानूनी क्या कार्रवाई करेगा इसकी जानकारी भी इन पोस्टरों में है। पोस्टर पर लिखा है कि अगर आपको बीवी से रिश्ता खत्म करना है तो इस्लामिक तरीके से करिए।

पोस्टर पर बाकायदा उन धाराओं का भी जिक्र हैं जिनके अन्तर्गत अंदर तीन तलाक देने वाले पर कार्रवाई होगी। रजाक का कहना है कि लोग इस पोस्टर की सराहना कर रहे हैं। नमाजी नमाज पढ़कर निकलते हैं तो रुककर इस पोस्टर को पढ़ते हैं।

पाकिस्तान का यह बाबर दुनियाभर के बल्लेबाजों के लिए हो सकता है खौफनाक

तीन तलाक का अर्थ शौहर के एक साथ तीन बार तलाक कहकर बीवी को तलाक दे देने से है। इसको लेकर दुनियाभर में इस्लाम के मानने वालों के बाच मतभेद हैं। दुनिया के कुछ ही देश देश इसको मान्यता देते हैं, जिनमें भारत भी एक हैं।

तीन तलाक को खत्म करने की मांग लेकर कुछ संगठन और तलाकशुदा महिलाएं सुप्रीम कोर्ट में लड़ रही हैं।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Posters discouraging triple talaq spring up in Mumbai
Please Wait while comments are loading...