नितिन गडकरी ने अधिकारियों से कहा करो या मरो

Subscribe to Oneindia Hindi

मुंबई। अमेरिका में सड़क इसलिए अच्‍छी नहीं होती हैं क्‍योंकि वहां के लोग अमीर है। बल्कि सड़कें अच्‍छी हैं, इसलिए वहां के लोग अमीर है। यह बात केंद्रीय सड़क परिवहन और राष्‍ट्रीय राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी के ऑफिस की दीवारों पर स्‍पष्‍ट रूप से लिखी हुई है।

nitin gadkari

नितिन गडकरी के ऑफिस में लिखी यह बात उनके सड़कों के निर्माण को लेकर सरकार की तरफ से किए गए वायदे को पूरा करने की और इशारा करती है। व‍िदेशी मीडिया से बात करते हुए नितिन गडकरी ने कहा कि सड़कों के निर्माण कार्य में तेजी लाई जानी चाहिए। इसलिए मैंने अपने अधिकारियों से कह दिया है कि डू ऑर डाई की नीति के तहत काम कीजिए।

ब्‍लूमबर्ग के एक इवेंट में बोलते हुए नितिन गडकरी ने कहा कि इंफ्रास्‍ट्रक्‍चर प्रोजेक्‍ट को पूरा करने के लिए जो लोन मिलता है, उस पर ब्‍याज दर 11 फीसदी है। यह बहुत ज्‍यादा है। उन्‍होंने कहा कि इंफ्रास्‍ट्रक्‍चर प्रोजेक्‍ट पर ब्‍याज दर सात फीसदी से कम होनी चाहिए।

nitin gadkari

उन्‍होंने कहा कि सड़क मंत्रालय का लक्ष्‍य है कि इस साल दिसंबर के अंत तक 2,00,000 किलोमीटर के दक्षिण एशिया देशों के नेटवर्क को देश के हाईवे नेटवर्क से जोडा जा सके। साथ ही उनकी नजर व‍िदेशों से होने वाले निवेश पर भी है।

उन्‍होंने कहा कि देश के इंफ्रास्‍ट्रक्‍चर को सुधार कर जीडीपी को सात फीसदी के स्‍तर से ऊपर ले जाया जा सकता है। अभी हमारी रैंक चीन और इंडोनेशिया से भी नीचे है। उन्‍होंने कि हमारा लक्ष्‍य है कि हर दिन 40 किलोमीटर लंबी सड़कों का निर्माण हो।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Nitin Gadkari Says to officer do or die
Please Wait while comments are loading...