नोटबंदी के चलते विदेशी मेहमान परेशान, सोशल मीडिया पर अभद्रता

Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। देश में 500 और 1,000 रुपए के नोट बैन होने से सिर्फ यहां के लोगों का ही काम नहीं रुका बल्कि यहां पर्यटन के उद्देश्य से आए विदेशियों को भी बड़ी समस्या हो रही है।

महाराष्ट्र स्थित मुंबई में एक एटीएम के बाहर लाइन में लगी दो पर्यटकों ने कहा कि 'हमारे पास खाने और खरीददारी करने के पैसे नहीं हैं। हमने कई बैंको पर प्रयास किया लेकिन सभी बंद थे। बहुत देर से एटीएम पर इंतजार कर रही हूं।'

india-mumbi

उपरोक्त खबर समाचार एजेंसी एएनआई ने ट्विटर पर जारी की। उसके बाद अतिथि देवो भवः वाले इस मुल्क में सारी मर्यादाओं की धज्जियां उड़ा दी गईं।

नोट बैन: ताकतवर तानाशाह PM ने अराजकता का माहौल पैदा कर दिया

फौजी गोली खाता है...

रजत ने इस पर रिप्लाई किया कि 'फौजी गोली खा सकता तुम इतना नहीं'।

सत्येंद्र सिंह ने लिखा है 'प्रिय देशवासियो... जब 'नव भारत' जन्म ले रहा है तब प्रसव पीड़ा तो होगी ही..!!'

रेहान ने लिखा है कि उनके लिए दुख हो रहा है। वो हमारे मेहमान हैं और हम उन्हें बिना खाना और पैसे के पीड़ित कर रहे हैं।

द वन एंड ओनली वन ने लिखा है 'तुम्हारे क्रेडिट कार्ड को क्या हो गया?'

नोट बैन: वायुसेना की मदद लेना दिखाती है सरकार की बदहवासी

इनके लिए कुछ किया जाए

वहीं अंकित राजपूत ने लिखा है 'इतने पैसे वाले होते तो इंडिया आते घूमने के लिए. टी शर्ट- शॉर्ट वाले टूरिस्ट।'

वहीं कुछ ऐसे भी रहे जिन्होंने इनसे सहानूभूति रखी और अपील की कि इनके लिए कुछ किया जाए। भारतीय नाम के यूजर ने लिखा 'मुंबईवालों इन्हें कोई कुछ दे दो यार! देश की इज्जत का सवाल है।'

आदित्य भण्डारी ने लिखा है कि उन्हें बताया जाए कि एयरपोर्ट से कैश एक्सचेंज हो सकता है।

लाइन में खड़ा है देश

गौरतलब है कि 8 नवंबर को राष्ट्र के नाम दिए संदेश में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 500 और 1,000 की करेंसी को अवैध घोषित कर दिया था जिसके बाद से एक ओर पूरा देश लाइन में खड़ा है वहीं विपक्ष इस फैसले का विरोध कर रहा है।

नोट बैन का असर, बिना ब्याज की किस्तों पर मिल रहे मोबाइल

हालांकि सरकार की ओर से कहा जा रहा है कि जल्द ही समस्या का हल हो जाएगा।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Mumbai: People continue to queue up outside ATMs to withdraw cash
Please Wait while comments are loading...