हैवान बाप ने 10 साल की बेटी का किया बलात्‍कार, उम्रकैद

Subscribe to Oneindia Hindi

मुंबई। पास्‍को कोर्ट ने 34 साल के एक पिता को 10 साल की नाबालिग बेटी से बलात्‍कार करने के आरोप में उम्रकैद की सजा सुनाई है। इस कलयुगी बाप ने साल 2014 में नाबालि बेटी को उस वक्‍त हवस का शिकार बनाया था जब वो घर पर अकेली थी। बच्‍ची की मां और भाई ने इस मामले में अदालत का दरवाजा खटखटाया था जिसके बाद यह फैसला आया है। कोर्ट ने अपने फैसले में कहा कि ''बाप होने के नाते यह कर्तव्‍य बनता है कि वो बेटी की रक्षा करे लेकिन उसने खुद ऐसी घिनौनी वारदात को अंजाम दिया जो बेहद शर्मनाक है।

Man gets life sentence for raping minor daughter
 'सेक्‍स पार्टी': नए साल का ऐसा जश्‍न जिसमें खो जाती है लड़कियों की वर्जिनिटी 

कोर्ट ने कहा कि इस तर‍ह के अपराध में किसी भी तरह की नरमी नहीं बरती जा सकती। कोर्ट ने कहा कि बच्‍ची की गवाही और मेडिकल रिपोर्ट से यह साबित हो गया कि उसका यौन उत्पीड़न हुआ है। जानकारी के मुताबिक घटना 15 जून 2014 को हुई थी जब पीडि़त बच्‍ची की मां उसके भाई को हॉस्‍टल छोड़ने गुजरात गई थी। घर पर पीडि़ता और उसकी बहन पिता के साथ अकेले थे।
4 अगस्‍त को पीडि़ता के भाई ने अपनी मां को बताया कि उसकी बहन ने यौन उत्‍पीड़न की बात उसे बतायी है। पीडि़ता की मां ने कोर्ट को बताया कि जैसे ही उसे घटना की जानकारी हुई उसने फौरन अपने रिश्‍तेदारों को बताया। सूचना पाकर रिश्‍तेदार फौरन घर पहुंचे और आरोपी पिता को जमकर मारापीटा फिर पुलिस के हवाले कर दिया।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
A special Protection of Children from Sexual Offences Act (POCSOA) court recently sentenced a 34-year-old man to life imprisonment for raping his 10-year-old daughter at their residence in 2014.
Please Wait while comments are loading...