दंगल के असली कोच बोले, ओलंपिक पदक जीत सकती हैं आमिर की फिल्मी बेटियां

By:
Subscribe to Oneindia Hindi

मुंबई। 2005 में कॉमनवेल्थ गेम्स में भारत के लिए गोल्ड जीतने वाले पहलवान कृपा शंकर बिश्नोई ने आमिर खान की फिल्म 'दंगल' में गीता और बबीता का रोल करने वाली फातिमा सना शेख और सान्या मल्होत्रा को फिल्म के लिए ट्रेनिंग दी है। फिल्म में फातिमा और सान्या अपने रोल से खूब तारीफें बटोर रही हैं। उनको इस रोल के लिए तैयार करने वाले कृपाशंकर का कहना है कि दोनों लड़कियों ने कमाल की मेहनत इस फिल्म के लिए की है। वो कहते हैं कि जिस तरह से उन्होंने फिल्म के दौरान पहलवानी के दांव-पेंच दिखाए और जिस तेजी से पहलवानी के गुर सीखे, उससे तो कहा जा सकता है कि ये लड़कियां ओलंपिक में भी गोल्ड जीत सकती हैं।

दंगल के असली कोच बोले, ओलंपिक पदक जीत सकती हैं आमिर की फिल्मी बेटियां

आमिर खान की 'दंगल' बीते शुक्रवार को रिलीज हुई है। फिल्म एक तरफ बढ़िया कमाई कर रही है तो दूसरी तरफ अपनी कहानी और परफेक्शन के लिए भी वाहवाही लूट रही हैं। समीक्षक फिल्म को पहलवानी पर बनी बॉलीवुड की सबसे शानदार फिल्म कह रहे हैं। फिल्म के लिए आमिर खान ने तो मेहनत की ही है, कुछ और लोग भी हैं जिनकी मेहनत इस फिल्म में बहुत ज्यादा है। इन्ही में अर्जुन अवार्डी कृपाशंकर बिश्नोई भी शामिल हैं। कृपाशंकर ने न्यूज 18 को फिल्म से जुड़ने का अपना अनुभव बताया है। उन्होंने ना सिर्फ फातिमा और सान्या की तारीफ की है साथ ही आमिर को भी कमाल का मेहनती एक्टर बताया है।

कृपा शंकर ने कहा कि जब उन्हें फोन आया कि आमिर खान उनसे बात करना चाहते हैं तो उन्होंने इसे एक मजाकिया कॉल समझ लिया था लेकिन बाद में वो आमिर से मिले तो उनसे बहुत प्रभावित हुए। कृपा ने कहा कि वो ये देखकर चौंक गए थे कि आमिर को पहलवानी के बारे में इतनी जानकारी कैसे हो सकती है। उन्होंने कहा कि आमिर ने बहुत मेहनत की और साथी कलाकारों के साथ भी फिल्म के लिए बहुत मेहनत की है। कृपाशकर ने कहा कि दंगल जैसी फिल्मों से खेलों को बढ़ावा मिलता है और इस फिल्म को दर्शकों से मिल रहे रिस्पॉन्स से वो बेहद खुश हैं। पढ़ें- 100 करोड़ी क्लब के सुल्तान, हैप्पी बर्थडे बजरंगी भाईजान

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Dangal Girls Fatima and Saniya Could Have Won Medals in olympic Says Kripa Shankar Bishnoi
Please Wait while comments are loading...