अमिताभ बोले, ये वक्त देश से लिए जान देने वाली सेना के साथ खड़े होने का

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

मुंबई। शत्रुघ्न सिन्हा द्वारा अमिताभ बच्चन का नाम अगले राष्ट्रपति के तौर पर लिए जाने के बाद अमिताभ बच्चन ने अपने 74वें जन्मदिन पर पत्रकारों से बात करते हुए आज इसका जवाब दिया है।

amitabh

अमिताभ बच्चन आज अपना 74 वां जन्मदिन मना रहे हैं। जन्मदिन पर अमिताभ ने प्रेस कॉन्फ्रेस की। इस मौके पर उन्होंने अपनी जिंदगी से जुड़ी कई बातों के जवाब दिए।

शत्रुघ्न सिन्हा के उनका नाम अगले राष्ट्रपति को तौर पर लिए जाने पर अमिताभ बच्चन ने कहा शत्रुघ्न बाबू मजाक करते है, उनका बचपना है, ऐसा नहीं होगा।

"सर्जिकल स्ट्राइक से पहले पीएमओ ने मुलायम सिंह यादव को किया था फोन"

जन्मदिन विशेष : रेखा या जया नहीं थीं बॉलीवुड के शहंशाह अमिताभ बच्चन का पहला प्‍यार

अगले राष्ट्रपति के सवाल को शत्रुघ्न सिन्हा का मजाक बताकर उन्होंने टाल दिया। वहीं अपने करियर को लेकर अमिताभ ने कहा कि वो लगातार काम करते रहेंगे और भविष्य में भी दमदार रोल की उन्हे तलाश रहेगी।

हम समाज को ध्यान में रखकर फिल्म नहीं बनाते

अमिताभ बच्चन की हालिया रिलीज 'पिंक' में लड़कियों की आजादी को लेकर लंबी बहस हुई थी। इस फिल्म को खूब तारीफें भी मिलीं। इस फिल्म के बारें में सोशल मीडिया पर भी खूब चर्चा रही और इसे समाज पर अच्छा प्रभाव डालने वाली फिल्म कहा गया।

अमिताभ बच्चन ने फिल्मों के समाज पर प्रभाव की बात के सवाल पर कहा कि हम कोई समाज को ध्यान में रखकर या इसका क्या प्रभाव होगा ये सोचकर फिल्म नहीं बनाते।

अमिताभ बच्चन ने कहा कि कोई निर्माता जब स्क्रिप्ट लेकर आता है तो हम उसे पढ़ते हैं और अगर कहानी पसंद आए तो काम करते हैं। उन्होंने कहा कि इसका समाज पर सकारात्मक प्रभाव पड़े तो ये बहुत खुशी होती है।

आखिर पाकिस्‍तान में क्‍यों लगा दिया गया एक पत्रकार पर बैन

ये समय सेना के साथ खड़े होने का है

उरी में आतंकी हमले और भारत-पाक तनाव पर अमिताभ ने कहा कि ये वक्त एकजुट रहने और पूरी ताकत से अपनी सेना के साथ खड़े रहने का है, जो अपनी जान देकर हमारी हिफाजत कर रहे हैं।

पाकिस्तानी कलाकारों पर बैन लगाने को लेकर उन्होंने कहा कि इस सब पर बात करने का ये सही वक्त नहीं है। अमिताभ बच्चन ने 16 अक्टूबर को हेमा मालिनी को उनके जन्मदिन के लिए भी बधाई दी। वहीं उन्होंने कहा कि आमिर खान की भी खूब तारीफ की। उन्होंने कहा कि आमिर के साथ काम करना बड़ी बात है।

जानिए दशहरे का महत्व और खास बातें...

प्यार के लिए आप सभी का शुक्रिया

अमिताभ ने कहा कि उनको केक काटने और मोमबत्ती जलाने की बात कभी समझ में नहीं आई। उन्होंने कहा कि अब तो केक उठा के मुंह पर पोत देते हैं, ना जाने ये क्या नया शुरू हुआ है।

अमिताभ बच्चन ने इस दौरान अपने जन्मदिन आ रही ढेर सारी बधाईयों के लिए सभी प्रशंसकों का शुक्रिया अदा किया।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Amitabh bachchan talking about his name as president
Please Wait while comments are loading...