बोले पीएम मोदी: सेना बोलती नहीं है, सेना पराक्रम करती है

Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। भारतीय सेना की ओर से पाक अधिकृत कश्मीर में किए गए सर्जिकल स्ट्राइक के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में ' शौर्य स्मारक ' के उद्घाटन समारोह के दौरान पूर्व सैनिकों के बीच थे।

सर्जिकल स्ट्राइक पर बोले पीएम

सर्जिकल स्ट्राइक पर बोले पीएम

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने संबोधन की शुरूआत शहीदों अमर रहो, शहीदों अमर रहो से की। इस दौरान सर्जिकल स्ट्राइक पर बड़ा बयान देते हुए पीएम ने कहा कि सेना बोलती नहीं है, सेना पराक्रम करती है।

उन्होंने कहा कि लोग कहते थे कि मोदी कुछ बोल नहीं रहा ,मोदी कुछ करता नहीं। हमारे रक्षामंत्री भी कुछ बोलते नहीं बल्कि पराक्रम करते हैं।

इससे पहले मोदी ने कहा कि यह मेरा सौभाग्य है कि इस महत्वपूर्ण ऐतिहासिक अवसर पर आप सबके बीच आ कर के इस देश के वीर जवानों को नमन करने का अवसर मिला है। मोदी ने कहा कि भारत के सैनिक मानवता की मिसाल है।

यूपी की राजनीति में इस बार कठिन है सपा-बसपा-भाजपा की राह

हमारे सैनिकों ने सब कुछ भुला कर मदद की

हमारे सैनिकों ने सब कुछ भुला कर मदद की

श्रीनगर में आई बाढ़ की विभीषिका की चर्चा करते हुए पीएम ने कहा कि लोगों को बचाते समय हमारी सेना ने यह नहीं सोचा कि ये वो लोग हैं जो कभी हमें पत्थर मारते हैं, कभी हम पर भारी पत्थरबाजी करते हैं, सिर फोड़ते हैं।

मोदी ने कहा कि सेना ने पत्थर की चोट भुलाकर मदद की।मोदी ने कहा कि वीर जवान ये नहीं सोचते कि कल क्या हुआ था? वो जी जान से जुटे रहते हैं।

तो उस देश का नाम हिन्दुस्तान...

तो उस देश का नाम हिन्दुस्तान...

उन्होंने कहा कि भारतीय सेना अनुशासन के मामले में पूरे विश्व में पंक्ति में सबसे आगे खड़ी नजर आती है। उन्होंने कहा कि विश्व के पीस कीपिंग फोर्स में सबसे अधिक योगदान करने वाला कोई देश है तो उस देश का नाम हिन्दुस्तान है।

मोदी ने कहा कि अनुशासन, आचार और मानवता में भारतीय सेना बेजोड़ है। पाकिस्तान के भी नागरिकों को बचाकर लाई। हर मानक पर भारतीय सेना खरी है।

मोदी ने कहा इतिहास गवाह है

मोदी ने कहा इतिहास गवाह है

पीएम ने कहा कि हिंदुस्तान का इतिहास इस बात का गवाह है कि हमारे पूर्वजों ने किसी की एक इंच जमीन को अपना बनाने के लिए झगड़ा नहीं किया है।

उन्होंने कहा कि यहाँ गाँधी ऐसे ही पैदा नहीं होते, यहाँ बुद्ध ऐसे पैदा नहीं होते हैं। बल्कि हम सब मानवता के लिए जीते हैं।

पीएम ने कहा कि आधुनिक हथियार सेना का सबसे बड़ा शस्त्र नहीं है, बल्कि सेना का सबसे बड़ा शस्त्र उसका मनोबल होता है। सैनिक मूल्यों के लिए मरते हैं और गाँधी मानवता के लिए जीते हैं।

यूपी में मुख्यमंत्री पद के लिए भाजपा के पास शीर्ष 5 विकल्प

ये हम सबके लिए तीर्थ क्षेत्र

ये हम सबके लिए तीर्थ क्षेत्र

उन्होंने कहा कि ये शौर्य स्मारक हम सबके लिए तीर्थ क्षेत्र है। हमारी आने वाली पीढ़ियों के लिए प्रेरणा का स्रोत है। शौर्य स्मारक के लिए मध्यप्रदेश सरकार का अभिनंदन करता हूँ।

वन रैंक वन पेंशन पर मोदी ने कहा कि सब केवल वादा करते थे लेकिन हमने कर दिखाया और वादा पूरा किया। पीएम मोदी ने कहा कि वन रैंक वन पेंशन के तहत 5 हजार करोड़ रुपए की रकम वितरित की जा चुकी है और हमने इसे 4 किश्तों में बांटने का फैसला किया है।

मोदी ने कहा कि हमने वन रैंक वन पेंशन लगने के बाद 7वें वेतन आयोग की सिफारिश लागू की। उन्होंने कहा कि सरकार ने यह व्यवस्था की है कि सेना के रिटायर होने वाले जवानों को स्किल ट्रेनिंग डेवलेपमेंट की ट्रेनिंग दी जा रही है।

पीएम ने कहा कि शौर्य स्मारक सिर्फ जवानों का सम्मान नहीं, बल्कि हमारी आने वाली पीढ़ियों के लिए देशभक्ति की ओपन यूनिवर्सिटी है।

3 लाख सैनिकों को कम करेगा चीन, स्टील्थ जेट्स और मिसाइल्स पर जोर

सुनाई कविता

सुनाई कविता

पीएम मोदी ने इस दौरान माखन लाल चतुर्वेदी की कविता मुझे तोड़ लेना वनमाली, उस पथ पर देना तुम फेंक, जिस पथ पर शीश नवाने जाते वीर अनेक भी सुनाई।

उन्होंने कहा कि देश के कवि वीर सैनिकों के शौर्य को नमन करते हैं।

मोदी ने कहा कि हम चैन की नींद सो जाएँ, तो सेना को खुशी मिलती है, लेकिन जागने के समय भी सो जाएँ तो सेना माफ नहीं करती है।

उन्होंने कहा कि देश के वीरों के त्यागों का वर्णन शब्दों में नहीं किया जा सकता है, देश के वीरों का जीवन और उनके कार्य हमें प्रेरणा देतें है।

बोला पाक- भारत के साथ नहीं चल रही कोई गुप्त कूटनीति

किया उद्घाटन

किया उद्घाटन

इस दौरान पीएम मोदी ने शौर्य स्मारक का उद्घाटन भी किया। इस कार्यक्रम में भाजपा के मध्य प्रदेश इकाई के नेता, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह, रक्षा मंत्री मनोह पर्रिकर सहित कई नेता और कई लोग मौजूद रहे।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
PM Modi addresses inauguration of war memorial "Shaurya Samarak" in Bhopal
Please Wait while comments are loading...