मध्य प्रदेश में ATS ने गिरफ्तार किए 11 जासूस, ISI को भेजते थे संवेदनशील जानकारियां

मध्य प्रदेश एटीएस ने आरोपियों को गिरफ्तार करके पूछताछ में काफी अहम जानकारियां हासिल की हैं। ये गिरफ्तारियां भोपाल, सतना और ग्वालियर जिलों से हुई हैं।

Subscribe to Oneindia Hindi

भोपाल। पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी ISI के लिए जासूसी करने वाले 11 लोगों को मध्य प्रदेश एंटी टेररिस्ट स्क्वॉड (ATS) ने गिरफ्तार किया है। ये लोग फर्जी टेलीफोन एक्सचेंज चला रहे थे और उसके जरिए फोन कॉल को सैटेलाइट कॉल में कनवर्ट करते थे। गिरफ्तार लोगों में से एक आरोपी एक नेता का भाई बताया जा रहा है।

मध्य प्रदेश में ATS ने गिरफ्तार किए 11 जासूस, ISI को भेजते थे संवेदनशील जानकारियां

भारी मात्रा में चाइनीज उपकरण बरामद
मध्य प्रदेश एटीएस ने आरोपियों को गिरफ्तार करके पूछताछ में काफी अहम जानकारियां हासिल की हैं। ये गिरफ्तारियां भोपाल, सतना और ग्वालियर जिलों से हुई हैं। एटीएस ने बताया कि इन लोगों की गतिविधियों पर काफी समय से नजर रखी जा रही थी। ये सभी आरोपी संवेदनशील जानकारियां ISI को लीक करते थे। छापेमारी के दौरान एटीएस ने मौके से भारी मात्रा में चाइनीज उपकरण बरामद किए साथ ही अलग-अलग कंपनियों के सिम कार्ड भी मिले। READ ALSO: मुलायम के बेटे प्रतीक ने बताया- कैसे खरीदी 5.28 करोड़ की कार

जम्मू-कश्मीर में तैनात जवानों को करते थे फोन
एटीएस के मुताबिक, आरोपियों से पूछताछ की जा रही है। पता लगाया जा रहा है कि उन्होंने अब तक क्या-क्या जानकारी पड़ोसी मुल्क को दी है और कब से यह काम कर रहे थे। उनके साथ इस नेटवर्क में और कौन से लोग शामिल हैं इसका भी पता लगाया जा रहा है। जांच में पता चला है कि ये आरोपी ISI के जासूसों के फोन कॉल जम्मू-कश्मीर में तैनात सेना के जवानों के पास सैटेलाइट कॉल की तरह भेजते थे। ये जासूस खुद को सेना का वरिष्ठ अधिकारी बताकर जवानों से खुफिया जानकारी जुटाने की कोशिश करते थे।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Madhya Pradesh ats arrested 11 spy sending informing to isi from state.
Please Wait while comments are loading...