2000 रुपये के नोट से गायब हुई महात्मा गांधी की तस्वीर, बैंक ने बताया 'असली'

बिना गांधी जी की तस्वीर वाले नोट देखकर किसानों को लगा कि नोट नकली हैं, लेकिन जब उन्होंने बैंक जाकर नोट दिखाया तो बैंक वालों ने उन्हें कुछ और ही जानकारी दी।

Subscribe to Oneindia Hindi

भोपाल। नोटबंदी के बाद जारी किए गए 2000 के नोट को लेकर अब तक तरह-तरह की बातें सामने आती रही हैं लेकिन मध्य प्रदेश में जो हुआ वह हैरान कर देने वाला है। प्रदेश के शेओपुर जिले के एक गांव में कुछ किसानों के होश तब उड़ गए जब उन्होंने देखा कि 2 हजार रुपये के नए नोटों पर गांधी जी की तस्वीर नहीं है। किसानों को लगा कि नोट नकली हैं, लेकिन जब उन्होंने बैंक जाकर नोट दिखाया तो बैंक वालों ने उन्हें कुछ और ही जानकारी दी। किसानों ने ये नोट स्टेट बैंक ऑफ इंडिया की ब्रांच से निकाले थे। जिन्हें बैंक ने असली बताते हुए वापस ले लिया।

2000 रुपये के नोट से गायब हुई महात्मा गांधी की तस्वीर, बैंक ने बताया 'असली'

एसबीआई ब्रांच से निकाले थे पैसे
किसान अपनी शिकायत लेकर बैंक पहुंचे तो उन्हें बताया गया कि यह नोट असली हैं। नोटों की छपाई में थोड़ी गड़बड़ी होने की वजह से गांधी जी की तस्वीर गायब हो गई। बैंक कर्मचारियों और पुलिस सूत्रों ने भी बताया कि ऐसे काफी नोट क्षेत्र में चलन में हैं। मंगलवार को एसबीआई ब्रांच से 2000 रुपये का नोट लेने वाले कृष्णा मीऩा ने इस पर ध्यान भी नहीं दिया था। उसे इस बात का पता तब चला जब वह बाजार गया। इसके बाद उसने दूसरे किसानों को आगाह किया।

पढ़ें: नोटबंदी की मार झेल रही जनता पर एक और मुसीबत

पहले भी आ चुकी हैं शिकायतें
बता दें कि नए नोटों की प्रिटिंग में खामी की यह पहली घटना नहीं है। नोटबंदी के बाद जारी किए गए 500 और 2000 रुपये के नोटों की छपाई में गड़बड़ी को लेकर कई तरह की शिकायतें सामने आ चुकी हैं। 2000 रुपये के नोट को लेकर समस्याएं ज्यादा आ रही हैं। एसबीआई की संबंधित ब्रांच के मैनेजर आकाश श्रीवास्तव ने कहा कि नोट की छपाई में गड़बड़ी थी। उन्हें तुरंत वापस ले लिया गया और किसानों को दूसरे नोट दिए गए।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Farmers get genuine Rs 2000 notes without image of Mahatma Gandhi in madhya pradesh.
Please Wait while comments are loading...