भूख से तड़पकर हुई बुजुर्ग की मौत, 15 दिन से नहीं खाया था कुछ

आसपास के लोगों को कहना है कि वह बुजुर्ग शख्स करीब 15 दिनों से भूखा था। खाना न मिल पाने की वजह से उसकी मौत हो गई है।

Subscribe to Oneindia Hindi

टीकमगढ़ मध्य प्रदेश के टीकमगढ़ में एक शख्स की भूख की वजह से मौत हो गई है। यह घटना टीकमगढ़ जिले के पठरा गांव की है। यह शख्स बहुत ही बुजुर्ग था जो अकेला रहता था। बताया जा रहा है कि उसके परिजन दिल्ली में मजदूरी करते हैं।

tikamgarh

'मैंने चाहा नहीं उसके साथ जाऊं, ना जाने कैसे सब होता चला गया'

आसपास के लोगों को कहना है कि वह बुजुर्ग शख्स करीब 15 दिनों से भूखा था। खाना न मिल पाने की वजह से उसकी मौत हो गई है। वह बुजुर्ग चलने फिरने में भी असमर्थ था, जिसके चलते वह किसी से खाना मांग भी नहीं सका।

पड़ोसियों को बुजुर्ग की मौत का पता तब चला जब लाश बदबू मारने लगी। जैसे ही गांव वाले यह जानने के लिए पहुंचे कि आखिर क्या मामला है, जिसकी वजह से घर से इतनी बदबू आ रही है तो उन्होंने ग्रामीण की लाश देखी।

जानिए कौन हैं रोहिंग्‍या मुसलमान और क्‍या है इनकी वर्तमान स्थिति

ग्रामीणों ने देर किए बिना 100 नंबर डायल किया और पुलिस को इस बात की सूचना दी। पुलिस मौके पर पहुंची और गांव वालों की मदद से उस बुजुर्ग शख्स का अंतिम संस्कार कराया गया।

सूचना पाकर मौके पर जतरा थाने की पुलिस पहुंची थी। गांव वालों के मुताबिक उन्होंने ग्रामीणों की उस बात को अनसुना कर दिया कि वह बुजुर्ग शख्स पिछले करीब 15 दिनों से भूखा था।

tikamgarh

भारत में फिल्मकार सच दिखाएगा, तो मार दिया जाएगा: प्रकाश झा

बिना पोस्टमार्टम अंतिम संस्कार

गांव वालों की बात सुने बिना ही उस शख्स का अंतिम संस्कार करा दिया गया। शव का पोस्टमार्ट भी नहीं कराया गया, ताकि मामले की जांच की जा सके कि आखिर उसकी मौत भूख से हुई या कोई और वजह थी।

वहीं दूसरी ओर जब पोस्टमार्टम न कराने की शिकायत अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक से की गई, तो उन्होंने कहा कि पुलिस को सूचना मिली थी कि किसी बीमार बुजुर्ग शख्स की मौत हो गई है।

टीकमगढ़ में हुई इस घटना ने जहां एक ओर मानवता को कलंकित किया है, वहीं दूसरी ओर प्रशासन के अधिकारियों की कार्यप्रणाली पर भी एक प्रश्न चिन्ह लगा दिया है।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
an old person in tikamgarh of madhya pradesh starved to death
Please Wait while comments are loading...