यूपी चुनाव में सपा की नैया पार लगाएंगे नए युवराज

उत्तर प्रदेश में नए युवराज संभालेंगे समाजवादी पार्टी के लिए मुस्लिम वोट बैंक, अंसारी पुत्र लगाएंगे पार्टी की नैया पार, मुख्तार अंसारी के बेटे को मिली बड़ी जिम्मेदारी

Subscribe to Oneindia Hindi

मऊ। उत्तर प्रदेश चुनाव की दस्तक के साथ ही समाजवादी पार्टी के नए युवराजों की पैठ शुरु हो गई है। यूपी में मुस्लिम वोटों के समीकरण को साधने के लिए सपा ने एक नई शुरुआत की है, जिसमें अब नए युवराजों की पार्टी में एंट्री होने जा रही है।

हाल ही में तमाम विरोध के बाद भी समाजवादी पार्टी में मुख्तार अंसारी की पार्टी कौमी एकता दल का विलय हुआ जिसके बाद मुलायम सिंह यादव ने अंसारी बंधुओं की जमकर तारीफ करते हुए उनका पार्टी में स्वागत किया था।

शिवपाल ने दिया बड़ा जिम्मा

अंसारी बंधुओं के बाद पार्टी में युवा मुसलमान वोटरों को लुभाने के लिए पार्टी अब सुहेल अंसारी और अब्बास अंसारी को समाजवादी युवजन सभा का प्रदेश सचिव बना दिा है। यह फैसला समावजादी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष शिवपाल यादव ने लिया है।

सुहेब अंसारी कौमी एकता दल के युवा मोर्चा के अध्यक्ष थे

सुहेब अंसारी, अंसारी परिवार से ही आते हैं और वह गाजीपुर से युसुफपुर मोहम्मदाबाद के बिधायक शिबगतुल्ला अंसारी के बड़े बेटे हैं। सुहेब इससे पहले कौमी एकता दल के युवा मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष थे।

पिता की जीत में अहम भूमिका

वहीं अब्बास अंसारी मऊ सदर विधायक बाहुबली मुख्तार अंसारी के बड़े बेटे हैं। इससे पहले वह अपने पिता के लिए चुनाव में प्रचार की कमान संभालते थे और इनकी ही बदौलत मुख्तार अंसारी मऊ से विजयी भी हुए थे।

शूटिंग में भी दिखा चुके हैं हाथ

अब्बास अंतर्राष्ट्रीय शूटिंग में भारत का प्रतिनिधित्व भी कई प्रतियोगिताओं में कर चुके हैं। बहरहाल देखने वाली बात यह है कि आगामी चुनाव में पार्टी का मुस्लिम वोटों के गठजोड़ के लिए यह कदम कितना सफल होगा।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Young muslim face in UP is the new weapon for Samajwadi party.Ansari son will mold the ways for party.
Please Wait while comments are loading...