बुलंदशहर गैंगरेप केस: आजम खान का SC में माफीनामा मंजूर

Written By:
Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। बुलंदशहर गैंगरेप कांड में आखिरकार कैबिनेट मिनिस्टर आजम खान ने बिना किसी शर्त के सुप्रीम कोर्ट से मांफी मांगी है, जिसे सुप्रीम कोर्ट ने स्वीकार कर लिया है।

azam khan

मोदी ने अपने ही पैसे के लिए लोगों को भिखारी बना दिया है: आजम खान

क्या कहा था आजम खान ने

आजम खान गैंगरेप को राजनीतिक साजिश कहा था, उन्होंने कहा था कि इस बात के पीछे राजनीतिक साजिश हो सकती है, हो सकता है कि सरकार को बदनाम करने के लिए इस घटना को अंजाम दिया गया है।

पीड़िता के पिता पहुंचे थे कोर्ट

आजम खान के इस विवादित बयान के बाद रेप पीड़िता के पिता ने कोर्ट का दरवाजा खटखटाया था। जिसके बाद कोर्ट ने उनसे इस मामले में माफी मांगने को कहा था। हालांकि आजम खान ने इस मामले में माफी मांगी थी लेकिन इसके साथ ही उन्होंने यह भी कहा था कि उनका मकसद किसी की भावना को आहत करना नहीं था बल्कि इस घटना के पीछे की साजिश को लोगों के बीच लाना था।

माफी में किंतु-परंतु स्वीकार नहीं

आजम खान के इस एफिडेविट पर सुप्रीम कोर्ट ने सख्त टिप्पणी करते हुए कहा था कि माफी में किसी भी तरह का किंतु परंतु स्वीकार नहीं किया जाएगा। जिसके बाद आजम खान के वकील कपिल सिब्बल ने कोर्ट से समय मांगा था।

महिला के सम्मान से समझौता नहीं

खान के माफीनाम पर कोर्ट ने कहा था कि सिर्फ माफी मांगने से मामला खत्म नहीं होगा, बिना शर्त मांफी मांगनी होगी। सुप्रीम कोर्ट की बेंच जस्टिस दीपक मिश्रा और अमित्वा रॉय ने पिछले महीने इस मामले की सुनवाई करते हुए कहा था कि महिला के सम्मान के साथ किसी भी तरह का समझौता नहीं किया जा सकता है।

इस मामले के बाद कोर्ट ने राज्य सरकार को निर्देश दिया था कि नाबालिग रेप पीड़ित को उसके पिता की इच्छा वाले स्कूल में दाखिला दिलाया जाए, कोर्ट ने यह भी कहा था कि एक बार बोला गया शब्द वापस नहीं लिया जा सकता हैा

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Supreme Court bench accepts the unconditional apology tendered by Azam Khan in Bulandshahr gang rape case.
Please Wait while comments are loading...