लोगों को जवान की शहादत नहीं दिखती, ये देखकर पीड़ा होती है- शिवराज सिंह चौहान

शिवराज सिंह चौहान बोले लोगों को जवान की शहादत नहीं दिखती, यह देखकर पीड़ा होती है कि लोग आतंकियों के लिए एनकाउंटर पर सवाल खड़े कर रहे हैं।

Subscribe to Oneindia Hindi

भोपाल। मध्य प्रदेश की जेल से सिमी आतंकियों के भागने के बाद उनके एनकाउंटर पर उठ रहे सवालों पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने निराशा जताई है। उन्होंने कहा कि लोग इसपर राजनीति कर रहे हैं, यह दुखद है। 

shivraj singh chauhan

भोपाल एनकाउंटर के वीडियो ने उठाए पुलिस की कहानी पर सवाल

जेल तोड़ने के बाद कैदियों ने हेड कांस्टेबल रामशंकर यादव को मौत के घाट उतार दिया। रामशंकर की अंत्येष्टि पर पहुंचे शिवराज सिंह ने कहा कि उन्होंने अपना जीवन आतंकियों से लड़ते हुए दिया है, मैं उन्हे श्रद्धांजलि देने के लिए आया हूं।

वीडियो से उठे 5 सवाल, आखिर सिमी आतंकियों के एनकाउंटर का सच क्या है?

चौहान ने कहा कि कुछ नेताओं को जवानों की शहादत नहीं दिखती है। उन्होंने कहा कि हमारे देश के कुछ नेताओं को जिनको शहीदों की शहादत दिखाई नहीं देता, यह देखकर पीड़ा होती है। उनको रामशंकर का बलिदान दिखना चाहिए।

रामशंकर की शहादत पर हो रही राजनीति पर बोलते हुए शिवराज ने कहा कि कुछ लोग वोट बैंक की राजनीति कर रहे हैं, जोकि बहुत ही निंदनीय है। लोगों को ऐसा करने से बचना चाहिए।

रामशंकर की अंत्येष्टि पर पहुंचे शिवराज सिंह ने कहा कि रामशंकर के परिजन को 10 लाख रुपए का मुआवजा दिया जाएगा, उनकी बेटी की विवाह के लिए 5 लाख रुपए के साथ उनकी कॉलोनी को रामशंकर के नाम पर किया जाएगा।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
He (Ramashankar Yadav) sacrificed his life fighting against terrorists,came here to pay my last tributes to him: MP CM Shivraj Singh Chouhan.
Please Wait while comments are loading...

LIKE US ON FACEBOOK