धर्म परिवर्तन का आरोप लगाकर चर्च में जमकर हंगामा, हुई तोड़फोड़

Subscribe to Oneindia Hindi

गोरखपुर। शाहपुर क्षेत्र में एक चर्च में कथित हिन्दुवादी संगठनों के कुछ लोगों ने गुरुवार को हंगामा कर दिया। प्रार्थना के दौरान ही उक्त संघटन के लोगो द्वारा मारपीट, ईंट-पत्थर चलाकर तोड़फोड़ किया गया। हंगामा करने वालों का आरोप था कि यहां धर्म परिवर्तन की साजिश की जा रही है। जबकि चर्च से जुड़े लोगों का कहना है कि क्रिसमस सप्ताह के तहत कार्यक्रम का आयोजन हुआ था। फिलहाल, मसीही समुदाय के लोगों की सूचना पर पहुंची पुलिस ने हल्का बल प्रयोग कर हंगामा करने वालों को खदेड़ा। उधर, पीड़ित चर्च पक्ष ने दो हिन्दुवादी संगठनों पर आरोप लगाते हुए प्राथमिकी दर्ज कराने की मांग की है।

धर्म परिवर्तन का आरोप लगाकर चर्च में जमकर हंगामा, हुई तोड़फ
 गोरखपुर: चर्चित गीता पाल रेप एंड मर्डर केस में ग्रामीणों ने घेरा जिलाधिकारी कार्यालय

प्राप्त जानकारी के अनुसार शाहपुर थानाक्षेत्र के मोती पोखरा के पास मसीही समुदाय का फूल गॉस्पल चर्च है। बताया जा रहा है कि गुरुवार को यहां क्रिसमस वीक का कार्यक्रम चल रहा था। काफी संख्या में मसीही समुदाय के लोग एकत्र थे। यहां के पादरी एवी लाल की देखरेख में सारा कार्यक्रम आयोजित था। तभी अचानक कुछ लोग वहां पहुंच गए और धार्मिक नारेबाजी करते हुए हंगामा करने लगे। हंगामा कर रहे लोग आरोप लगा रहे थे कि चर्च में आयोजित कार्यक्रम धर्म परिवर्तन की खातिर है।

Ruckus at church

वहां मौजूद लोगों के अनुसार वे लोग जब तोड़फोड़ करने लगे तो दूसरे पक्ष से भी काफी लोग एकत्र हो गए। टकराव की स्थिति हो गई।जिसमे मारपीट और पत्थर चलने की बात कही जा रही है। इसी बीच किसी ने मुकामी पुलिस को सूचित कर दी।

Gorakhpur

मौके पर पहुंची पुलिस ने दोनों पक्षो की बात सुनकर पहले तो उन्हें समझाया, जब हंगामा करने वाले नहीं माने तो हल्का बल प्रयोग कर खदेड़ दिया। फिलहाल, मौके पर पुलिस बल मौजूद है। स्थिति शांतिपूर्ण है लेकिन इस घटना को लेकर मसीही समाज में आक्रोश व्याप्त है।मसीही समाज के लोग उक्त धार्मिक संगठन के खिलाफ एफआईआर किये जाने की मांग कर रहे है।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Ruckus at church on allegations of conversion Gorakhpur, district of Uttar Pradesh. Properties damaged.
Please Wait while comments are loading...