अब राम गोपाल ने फोड़ा 'लेटर बम', कहा अखिलेश विरोधी नहीं पहुंच पाएंगे विधानसभा

रामगोपाल ने लिखा है कि अखिलेश के साथ वो लोग हैं, जिन्होंने पार्टी के लिए खून पसीना बहाया है, अपमान सहा है, जबकि उधर के लोग वो हैं, जिन्होने हजारों रुपया कमाया है।

Subscribe to Oneindia Hindi

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के समाजवादी पार्टी का झगड़ा बढ़ता ही जा रहा है। अंदरूनी कलह को लेकर पार्टी और परिवार दो फाड़ में बंटता दिख रहा है। पहले जो हमले दबी जुबान में होते थे अब वो एकदम से आमने-सामने होने लगे हैं। सुलह-समझौतों की कई बैठकों के बीच मुलायम के चचेरे भाई और राज्यसभा सांसद रामगोपाल यादव ने सपा कार्यकर्ताओं को चिट्ठी लिखकर अखिलेश विरोधियों पर हमला बोला है।
अगर सपा में हुई टूट तो किस पार्टी को होगा सीधा फायदा और क्यों? 

Ram Gopal Yadav

रामगोपाल ने इस चिट्ठी के माध्‍यम से कहा है कि अखिलेश विरोधी विधानसभा नहीं पहुंच पाएंगे। उन्‍होंने चिट्ठी में लिखा है कि 'हम चाहते हैं कि मुख्यमंत्री अखिलेश के नेतृत्व में उत्तर प्रदेश में समाजवादी सरकार बने। वो (विरोधी) चाहते हैं कि हर हालत में अखिलेश यादव हारें। हमारी सोच पॉजिटिव है उनकी निगेटिव।' उन्‍होंने कहा कि अखिलेश की यात्रा विरोधियों के गले की फांस बन गई है। मध्यस्थता करने वाले दिग्भ्रमित करने की कोशिश कर रहे हैं। जहां अखिलेश हैं, जीत वहीं है।

रामगोपाल ने लिखा है कि अखिलेश के साथ वो लोग हैं, जिन्होंने पार्टी के लिए खून पसीना बहाया है, अपमान सहा है, जबकि उधर के लोग वो हैं, जिन्होने हजारों रुपया कमाया है, व्यभिचार किया है और सत्ता का दुरूपयोग किया है।

आपको बता दें कि रामगोपाल यादव ने इससे पहले मुलायम सिंह यादव को चिट्ठी लिखा था और कहा था कि अखिलेश यादव को मुख्यमंत्री के चेहरे के तौर पर आगे नहीं करना अखिलेश को कमजोर करना होगा। ऐसा करना पार्टी के लिए बड़ा नुकसानदायक साबित हो सकता है।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
In a fresh twist in the ongoing dispute in the ruling Samajwadi Party, general secretary Ram Gopal Yadav on Sunday wrote a one-page letter to party workers saying the future of the SP lay in Akhilesh Yadav.
Please Wait while comments are loading...