आशु मलिक का आरोप, भाजपा के इशारे पर रामगोपाल ने लिखी मुलायम को चिट्ठी

आशु मलिक ने रामगोपाल यादव का नाम लिए बिना उनकी चिट्ठी का जिक्र करते हुए कहा कि मुलायम सिंह यादव को चिट्ठी भाजपा के इशारे पर लिखी गई है।

Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। कैबिनेट मंत्री शिवपाल यादव को मंत्रिमंडल से बाहर निकाले जाने के बाद समाजवादी कुनबे में मचा संग्राम अब सड़क पर आ गया है। इस बीच सपा सुप्रीमो मुलायम सिंह यादव के करीबी पूर्व राज्यमंत्री और एमएलसी आशु मलिक ने बिना नाम लिए सपा सांसद रामगोपाल यादव पर हमला बोला है।
अखिलेश ने शिवपाल यादव सहित 4 मंत्रियों को कैबिनेट से किया बर्खास्‍त 

Ashu Malik targets ramgopal yadav for controversy in sp

आशु मलिक ने रामगोपाल यादव का नाम लिए बिना उनकी चिट्ठी का जिक्र करते हुए कहा कि मुलायम सिंह यादव को चिट्ठी भाजपा के इशारे पर लिखी गई है। उन्होंने कहा कि जिन्होंने चिट्ठी लिखी है उन्होंने भाजपा से मिलकर समाजवादी पार्टी को तोड़ने की घिनौनी साजिश रची है। उन्होंने कहा कि यह सारा खेल भाजपा के इशारे पर खेला जा रहा है।
अब राम गोपाल ने फोड़ा 'लेटर बम', कहा अखिलेश विरोधी नहीं पहुंच पाएंगे विधानसभा 

मलिक ने कहा कि चिट्ठी लिखने वाले ने भाजपा के इशारे पर सीएम को हटाने की साजिश की थी। उन्होंने कहा कि वर्तमान प्रदेश सरकार को एक एटीएम बना दिया गया है और सरकार को एटीएम किसने बनाया, ये सभी को पता है। गौरतलब है कि मुलायम सिंह यादव के कुनबे में मचे घमासान के बीच मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने रविवार को कैबिनेट मंत्री शिवपाल यादव समेत 4 मंत्रियों को मंत्रिमंडल से बाहर कर दिया।

इससे पहले मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने अपने सरकारी आवास पर विधायकों के साथ बैठक की। बैठक में आने वाले विधायकों को मोबाइल फोन बाहर ही जमा करा लिया गया था। शिवपाल के अलावा, ओम प्रकाश, शादाब फातिमा और दर्जा प्राप्त मंत्री जयाप्रदा भी बर्खास्त हुई हैं। जानकारी के मुताबिक अखिलेश यादव ने कहा है कि जो भी अमर सिंह के साथ है उनको हटाया जाएगा। जिस व्यक्ति ने पार्टी में झगड़े पैदा किए उनको माफी नहीं दी जाएगी।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Ex mlc ashu malik targeted ramgopal yadav for controversy in samajwadi party.
Please Wait while comments are loading...