मधुमिता के हत्‍यारे अमर‍मणि त्रिपाठी के बेटे अमनमणि को सपा ने दिया टिकट

Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्‍ली। सपा सरकार में पूर्व मंत्री रहे और मधुमिता हत्याकांड उम्रकैद की सजा काट रहे अमरमणि त्रिपाठी के बेटे अमनमणि त्रिपाठी को समाजवादी पार्टी ने 2017 में होने वाले विधानसभा चुनावों में प्रत्‍याशी बनाया है।

Madhumita Shukla murder accused Amarmani Tripathi’s son gets Samajwadi party ticket

सपा ने उन्‍हें नौतनवा विधानसभा से टिकट दिया है। आपको बता दें कि अमरमणि यूपी से चार बार विधायक रह चुके हैं। वहीं अमनमणि पर उनकी पत्नी सारा की हत्या का आरोप है।
नीतीश कटारा मर्डर केस: बाहुबली नेता की बेटी से इश्‍क और फिर हत्‍या की पूरी कहानी 

2012 में भी मिलाा था अमनमणि को टिकट

समाजवादी पार्टी ने 2012 के विधान सभा चुनाव में भी अमनमणि त्रिपाठी को नौतनवा से विधान सभा का टिकट दिया था। अमरमणि ने बेटे के समर्थन में जेल से वीडियो संदेश भी भिजवाया था लेकिन अमनमणि कांग्रेस के प्रत्याशी कौशल किशोर से हार गए थे।

टिकट पाने वालों की लिस्‍ट

सहारनपुर-नाकुढ़-मोहम्मद इरशाद
बहराइच- नानपारा-जयशंकर सिंह
बहराइच- प्रयागपुर- मुकेश श्रीवास्तव
महाराजगंज- नौतनवा- अमन मणि त्रिपाठी
सोनभद्र- ओबरा- संजय यादव
बुलंदशहर- ढिबाई- हरीश लोधी
हरदोई- गोपामऊ- राजेश्वरी
हरदोई- सांडी - ऊषा वर्मा
जलालपुर- सुभाष राय

टिकट को लेकर फिर तकरार

टिकट बंटवारे को लेकर समाजवादी पार्टी में फिर तकरार दिखने लगी है। मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा है कि सपा में टिकट बांटने की जानकारी मुझे नही है मैंने सारे अधिकार छोड़ दिया है। आपको बता दें कि सपा में राज्य संसदीय बोर्ड के चेयरमैन अखिलेश ही हैं।

इतना ही नहीं अखिलेश ने कहा कि ताश के खेल में वही जीतता है जिसके पास तुरुप का पत्ता होता है। अखिलेश ने संकेत के तौर पर यह जरुर कहा कि राजनीती में ना जाने अगले पल क्या होगा। सूत्रों की मानें तो टिकट वितरण में शिवपाल का हस्‍तक्षेप चल रहा है। कहा तो यह भी जा रहा है कि जिन लोगों को टिकट मिला है वो शिवपाल यादव के करीबी हैं।

अमनमणि पर है पत्‍नी की हत्‍या का आरोप

अमनमणि पर उनकी पत्नी सारा की हत्या का आरोप है। सारा की मौत सिरसागंज में 9 जुलाई 2015 को हुई थी, जब वह अमनमणि के साथ दोपहर में कार से लखनऊ से दिल्ली जा रही थी।

अमनमणि ने सारा के घर वालों को बताया था कि उसकी मौत सड़क हादसे में हुई है। लेकिन, सारा की मां सीमा सिंह, बहन नीति और भाई सिद्धार्थ ने हत्या का आरोप लगाया था। इसके बाद ही पुलिस ने अमनमणि को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था। हालांकि इससे पहले पुलिस अमनमणि को किडनैपिंग मामले में खोज रही थी।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
The Mulayam Singh Yadav-led Samajwadi Party on Monday raked up another controversy after the party gave a ticket to 2002 Madhumita murder case accused Amarmani Tripathi’s son in the upcoming Uttar Pradesh Assembly elections.
Please Wait while comments are loading...