कश्मीर घाटी में हमले की फिराक में हैं 300 आतंकी: डीजीपी

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर के डीजीपी ने कहा है कि राज्य के हालात में अभी भी सुधार नहीं है और 300 सक्रिय आतंकी हमले की फिराक में हैं।

जम्मू-कश्मीर में पिछले चार महीने से जारी अशांति पर राज्य के डीजीपी के. राजेंद्र ने कहा कि 300 आतंकी सूबे के अमन में आग लाने के लिए सक्रिय हैं। साथ ही उन्होंने कहा कि सीमा पर पाक की ओर से लगातार हो रही गोलाबारी की वजह से शांति कायम कर पाना मुश्किल हो रहा है।

सीमा पार से गोलीबारी में 2 जवान शहीद, पाक को भी भारी नुकसान

जम्मू-कश्मीर की मुख्यमंत्री की अध्यक्षता में हुई सीनियर अधिकारियों की मीटिंग में डीजीपी ने ये बातें कहीं। डीजीपी ने कहा कि बुरहान वानी की मौत के बाद राज्य में पैदा हुए मुश्किल हालात अब पहले से कुछ बेहतर हैं लेकिन स्थिति अभी भी बेहद नाजुक बनी हुई है।

डीजीपी ने कहा कि राज्य में आतंकियों के हमले की आशंका के मद्देनजर हमने अगले दो-तीन माह के लिए एक रोडमैप तैयार किया है।

खतरनाक हथियारों के साथ कश्मीर में पकड़ा गया लश्कर का आतंकी

सूबे में अमन कायम करना प्राथमिकता

डीजीपी ने कहा कि अशांति के दौरान प्रदर्शनकारियों और शरारती तत्वों नें 70 इमारतों को निशाना बनाया। इन 70 में 53 इमारतें पूरी तरह से ध्वस्त कर दी गईं।

कश्मीर में अशांति के लिए उपद्रवी जला रहे स्कूल, बुरहान वानी के पिता ने किया विरोध

उन्होंने कहा की हालात को सामान्य करना और सूबे में शांति लौटाना सुरक्षाबलों और पुलिस की प्राथमिकता है। उन्होंने कहा कि शरारती तत्वों को किसी कीमत पर बख्शा नहीं जाएगा।

इस मीटिंग में राज्य के डिप्टी कमिश्नर और एसएसपी भी भाग लेने पहुंचे। सभी ने अपने-अपने क्षेत्र के हालात की जानकारी मीटिंग में दी।

8 जुलाई को हिजबुल कमांडर बुरहान वानी के सुरक्षाबलों के साथ मुठभेड़ में मारे जाने के बाद कश्मीर में लगातार अशांति हैं। इसमें बड़ी संख्या में लोग गिरफ्तार हुए हैं। हजारों लोग घायल हो चुके हैं, सैकडों की जान जा चुकी है।

मां-बाप की बात मान इस आतंकी ने भारतीय सेना के सामने किया सरेंडर

देश-दुनिया की तबरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
DGP says kashmir situation extremely fragile 300 terrorists still active
Please Wait while comments are loading...