स्टडी में खुलासा, भारत में रेप की बढ़ती घटनाओं का खुले में शौच से है संबंध

स्टडी के मुताबिक, घरेलू शौचालय इस्तेमाल करने वाली महिलाओं की अपेक्षा खुले में शौच के लिए जाने वाली महिलाओं के साथ बलात्कार या यौन हिंसा की आशंका दोगुनी होती है।

Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। भारत में महिलाओं से बलात्कार और यौन हिंसा की बढ़ती घटनाओं के पीछे उनका खुले में शौच के लिए जाना अहम वजह माना जा रहा है, ये खुलासा एक स्टडी में सामने आया है।

toilet

अमेरिकी विश्वविद्यालय की रिसर्चर का खुलासा

स्टडी के मुताबिक, घरेलू शौचालय इस्तेमाल करने वाली महिलाओं की अपेक्षा खुले में शौच के लिए जाने वाली महिलाओं के साथ बलात्कार या यौन हिंसा की आशंका दोगुनी होती है।

नोटबंदी: पब्लिक टॉयलेट के नाम पर जारी किया 5 रुपये का चेक, तस्वीर वायरल

अमेरिकी विश्वविद्यालय की रिसर्चर अपूर्वा जाधव के शोध पत्र में इस बात का खुलासा हुआ है। अमेरिकी रिसर्चर के मुताबिक खुले में शौच के लिए जाने वाली महिलाओं के साथ रेप या फिर यौन हिंसा की आशंका बनी रहती है।

मिशिगन विश्वविद्यालय की रिसर्चर अपूर्वा जाधव का रिसर्च पेपर बायो-मेड सेंट्रल जर्नल के हालिया अंक में प्रकाशित हुआ है।

बाहर शौच के लिए जाने वाली महिलाओं से यौन हिंसा की ज्यादा आशंका

फिलहाल केंद्र की मोदी सरकार लगातार देश में शौचालय निर्माण को लेकर जागरुकता फैलाने की कवायद में जुटी हुई है।

कानपुर की महिला ने मंगलसूत्र बेचकर बनवाया शौचालय

इसके लिए सरकार ने स्वच्छ भारत अभियान की शुरूआत की है। साथ ही कई एनजीओ भी लोगों को लगातार शौचालय बनवाने के लिए समझाने की कोशिश कर रहे हैं।

अनुसंधानकर्ता ने इस शोध में भारतीय राष्ट्रीय परिवार स्वास्थ्य सर्वे के हालिया डाटा को देखा और उसके आधार पर देश के 75 हजार महिलाओं से पूछे गए सवालों के जवाब का विश्लेषण किया।

इस दौरान उनसे पूछा गया था कि घर में उनके घर में शौचालय है या नहीं, अगर नहीं है तो उन्हें किस तरह की हिंसा का सामना करना पड़ा है।

इन्हीं सवालों के आधार पर रिसर्चर अपूर्वा जाधव ने पाया की भारत में उन महिलाओं को ज्यादा यौन हिंसा का सामना का करना पड़ता है जो बाहर शौच के लिए जाती हैं।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
study says women open defecation sites get raped compared women using home toilet.
Please Wait while comments are loading...