हर रोज अलग स्टूडेंट से संबंध बनाती थी महिला टीचर, 30 साल की जेल, रोते हुए बताई अपनी कहानी

महिला टीचर को पुलिस ने तब गिरफ्तार किया था, जब एक नाबालिग छात्र ने अपने यौन शोषण की बात कहते हुए टीचर के निजी अंगो पर बने टैटू के बारे में सुबूत के तौर पर बताया था।

By:
Subscribe to Oneindia Hindi

उटाह। अमेरिका के उटाह में महिला टीचर ब्रेनी एल्टिस अपने नाबालिग छात्रों से संबंध बनाने के लिए 30 साल की सजा काट रही है। 2013 में गिरफ्तार की गईं ब्रेनी पैरोल पर बाहर आई हैं। तीन साल बाद जेल से आई ब्रेनी ने अपने किए पर दुख जताया है और इसके लिए अपने पति को भी अपराधी मानने से इंकार किया है।

woman teacher jailed for 30 YEARS for romping with three pupils

ब्रेनी ने कहा, ''मैं एक अजीब से नशे में अंधी हो गई थी, मैंने सारे सिद्धांत ताक पर रख दिए और अपनी जरूरतों के लिए गलत रास्ते का इस्तेमाल किया। उन्होंने कहा कि मुझे ऐसा नहीं करना चाहिए था। उन्होंने कहा कि मैं अपने किए के लिए कोई सफाई नहीं देना चाहती हूं, क्योंकि मैंने गलती की। उटाह स्कूल में ब्रेनी को छात्र 'कई फायदे करने वाली टीचर' के तौर पर जानते थे। लड़कों में इस बात को लेकर चर्चा होती थी कि आज कौन ब्रेनी के साथ सोने के लिए जा रहा है। 2013 में उनको गिरफ्तार कर लिया गया था, जब एक नाबालिग छात्र ने ब्रेनी पर अपने साथ सेक्स करने की बात कहते हुए उनके निजी अंगो पर बने टैटू के बारे में भी सुबूत के तौर पर बताया था।

2013 में ब्रेनी के गिरफ्तार होने के बाद दो और छात्रों ने भी ब्रेनी के साथ संबंध बनाने की बात स्वीकार की थी। 2015 में उनको तीन नाबालिग छात्रों के यौन शोषण का दोषी पाया गया था और नाबालिग छात्रों का यौन शोषण करने के लिए ब्रेनी को 30 साल की सजा सुनाई गई। ब्रेनी का अपने पति से तलाक हो गया था और उनके बच्के भी उनसे अलग रह रहे थे। ब्रेनी ने कहा है कि वो अपने किए के लिए पूर्व पति को दोषी नहीं ठहरा सकतीं। कोर्ट ने पैरोल की समय सीमा अभी तय नहीं की है। कोर्ट इस पर विचार करेगा कि कितने दिन तक ब्रेनी को पैरोल पर रहने की इजाजत दी जाए। 
इसे भी पढ़ें- शारीरिक संबंधो के दौरान दर्द और जलन के सवाल पर क्या बोली महिलाएं?

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
woman teacher jailed for 30 YEARS for romping with three pupils
Please Wait while comments are loading...