चीन ने अमेरिका को तरेरी आंख, कहा - यह देश हमारा है

Subscribe to Oneindia Hindi

हांगझू। 'यह देश हमारा है, यह एयरपोर्ट हमारा है।' यह बात एक चीनी अधिकारी ओबामा की सुरक्षा में लगे दो अफसरों से कही है।

barack obama

बता दें अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा शनिवार को जी-20 समिट के लिए चीन पहुंचे। जहां उनको और उनके दल को अजीब हालात से गुजरना पड़ा।

पीएम मोदी का एक हफ्ता, तीन देश और तीन बड़े सम्‍मेलन

चिल्ला पड़ा चीनी अधिकारी

जी 20 चीन के हैंगझू में होना है जहां खास इंतजामात किए गए हैं। जब ओबामा का विमाव लैंड हुआ एक चीनी अधिकारी, दो अमिरकी अधिकारियों पर चिल्ला पड़ा।

इतना ही नहीं अमेरिका की राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार सुजन राइस और व्हाइट हाउस के प्रेस समूह को भी सुरक्षा जांच गुजरना पड़ा।

NSG में हो भारत की एंट्री इसलिए जी-20 में होगी चीन से बात: कैरी

ये है मामला

बता दें कि ओबामा की किसी भी यात्रा के दौरान उनके साथ जो पत्रकार जाते हैं, विमान की लैंडिंग के बाद वो विमान के नीचे खड़े होते हैं ताकि वो राष्ट्रपति की फोटो क्लिक कर सकें।

जानिए क्‍या है G-20 जहां है पीएम मोदी और राष्‍ट्रपति ओबामा की आखिरी मुलाकात

लेकिन विमान की लैंडिंग के बाद चीन के सुरक्षा अधिकारियों ने एक नीली रस्सी लगा दी और पत्रकारों को पीछे धक्का दे किया। धक्का देने के बाद भी चीनी अधिकारी नहीं रूके और उनमें से एक ने चिल्ला कर कहा कि अमेरिकी पत्रकार वहां से चले जाए।

तब व्हाइट हाउस की अधिकारी ने चीनी अधिकारी से कहा कि ये विमान अमेरिका के राष्ट्रपति का है। जिस पर चीनी अधिकारी ने कहा 'यह देश हमारा है, यह एयरपोर्ट हमारा है।'

दक्षिण चीन सागर पर अपना रुख स्पष्ट करें भारत: वांग यी

इसके बावजूद सुजैन राइस और व्हाइट हाउस के वरिष्ठ अधिकारी बेन रोड्स ने जब जहाज के पास लगी नीली रस्सी को उठाकर ओबामा के पास जाने की कोशिश की तो भी चीनी अधिकारी नाराज हो गया और उसने रास्ता रोकने की कोशिश की।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
When U.S. President Barack Obama landed in Hangzhou then china officials shouted on american officials.
Please Wait while comments are loading...