दक्षिण कोरिया की महिला राष्ट्रपति के ऑफिस में मिली वियाग्रा की गोलियां, हंगामा बढ़ा

इस खुलासे से एक ओर जहां इंटरनेट पर लोग खूब चुटकियां ले रहे हैं वहीं राष्ट्रपति कार्यालय ने सफाई देते हुए कहा कि ये दवाएं राष्ट्रपति कार्यालय में काम करने वाले कर्मचारियों के लिए तब लाई गई थीं।

Subscribe to Oneindia Hindi

सियोल। दक्षिण कोरिया की राष्ट्रपति पार्क ग्यून हे के ऑफिस में यौन उत्तेजक दवा मिलने से हंगामा खड़ा हो गया है। विपक्षी पार्टी के एक नेता ने बुधवार को दावा किया कि राष्ट्रपति कार्यालय में वियाग्रा की 360 गोलियां मिली हैं।

Park Geun hye

इस खुलासे से एक ओर जहां इंटरनेट पर लोग खूब चुटकियां ले रहे हैं वहीं राष्ट्रपति कार्यालय ने सफाई देते हुए कहा कि ये दवाएं राष्ट्रपति कार्यालय में काम करने वाले कर्मचारियों के लिए तब लाई गई थीं जब वे यूथोपिया, युगांडा और केन्या की यात्रा पर मई में गए थे। यहां की राजधानी समुद्र तल से 2 किलोमीटर ऊपर है इस वजह से काफी परेशानी होती है।

पढ़ें: टैक्सी ड्राइवर ने नहीं लिए पुराने नोट, अस्पताल पहुंचने से पहले बीमार बच्चे की मौत

ब्लू हाउस के प्रवक्ता जुंग योंग कुक ने कहा कि दवाओं का इस्तेमाल नहीं किया गया। साउथ कोरिया के डॉक्टर कई बार धरातलीय बनावट की वजह से होने वाली परेशानियों से बचने के लिए वियाग्रा जैसी दवाओं का सुझाव देते हैं। ये दवाएं ऐसी स्थिति में मददगार साबित होती हैं।

पढ़ें: 500 रुपये का नोट नहीं लिया तो नाबालिग बेटी से किया रेप, आरोपी फरार

साउथ कोरिया की राष्ट्रपति को लेकर वियाग्रा का खुलासा वहां के ताजा राजनीतिक स्कैंडल में बड़ा ट्विस्ट लेकर आया है। इसके बाद से देश में विपक्षी पार्टियों के अलावा उनकी खुद की पार्टी के कुछ नेता भी विरोध में खड़े हो गए हैं।

विपक्षी पार्टी ने रविवार को आरोप लगाया था कि जिस तरह के सबूत मिल रहे हैं उससे आशंका है कि राष्ट्रपति आपराधिक गतिविधियों में शामिल हैं। राष्ट्रपति के सहयोगियों पर कुछ कंपनियों को धमकाने और जबरन फंड वसूलने का भी आरोप है।

पढ़ें: यूपी में PWD इंजीनियर के बेडरूम में 50 लाख रुपये काला धन

बता दें कि साउथ कोरिया में राष्ट्रपति पार्क ग्यून हे पहली महिला राष्ट्रपति हैं। वह फरवरी 2013 से इस पद पर हैं।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
About 360 Viagra pills were found in South Korea President Park Geun-hye's office.
Please Wait while comments are loading...