डोनाल्‍ड ट्रंप देंगे भारतीय कर्मचारियों को जोर का झटका, अमेरिका के लोगों की होगी भर्ती

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

वाशिंगटन। अमेरिका के नए राष्ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप अब वहां काम कर रहे भारतीयों को जोर का झटका देने जा रहे हैं।

donald trump

अमेरिका में हाल में ही चुने गए राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप की नीतियों के चलते भारतीय आईटी कंपनियों को बड़े पैमाने पर स्‍थानीय अमेरिकी नागरिकों की नियुक्ति करनी होगी।

आपको बताते चलें कि भारत की दिग्‍गज आईटी कंपनियां टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज, इंफोसिस और विप्रो जैसी कंपनियां अमेरिका में एच1-बी वीजा के जरिए बड़े पैमाने पर भारत से कर्मचारियों की भर्ती करती हैं और उनहें विदेश ले जाती हैं।

अमेरिका में भारतीय कर्मचारियों को अमेरिकी लोगों की तुलना में कम वेतन पर ही रख लिया जाता है। इसलिए आईटी कंपनियां भारतीय इंजीनियरों को खूब वरीयता देती हैं।

वर्ष 2005-14 के दौरान इन तीन कंपनियों में एच1-बी वीजा पर काम करने वाले कर्मचारियों का आंकडा 86,000 से ज्‍यादा का था।

अभी तक अमेरिका इतने लोगों को हर साल अमेरिका हर साल इतने लोगों को एच1-बी वीजा देता रहा है।

डोनाल्‍ड ट्रंप के अलावा उनकी ओर से चुने गए अटॉर्नी जनरल जेफ सेशन्स भी अमेरिकी वीजा नीति को और सख्त किए जाने की बात कही है।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
US visa regime, Indian IT firms rush to hire, acquire american citizen
Please Wait while comments are loading...