अमेरिकी रक्षा सचिव जेम्‍स मटीस ने ईरान को कहा आतंकवाद को बढ़ावा देने वाला देश

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

वॉशिंगटन। अमेरिका के नए रक्षा मंत्री जेम्‍स मटीस ने शनिवार को एक अहम बयान दिया जब उन्‍होंने ईरान को दुनिया में बड़े स्‍तर पर आतंकवाद का समर्थन करने वाला देश बता दिया। मटीस ने यह बयान तब दिया है जब नए राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप ने ईरान पर बैलेस्टिक मिसाइल टेस्‍ट के बाद नए प्रतिबंध लगा दिए हैं।

अमेरिकी-रक्षा-सचिव-जेम्‍स-मटीस-ईरान-आतंकवाद

टोक्‍यो में ईरान पर कसा तंज

मटीस ने जापान की राजधानी टोक्‍यो में एक प्रेस कांफ्रेंस के दौरान कहा, 'जहां तक ईरान की बात है तो यह दुनिया का एक ऐसा देश है जो सबसे ज्‍यादा आतंकवाद को बढ़ावा देता है।' वहीं उन्‍होंने यह भी कहा कि प्रतिक्रिया स्‍वरूप अमेरिका की मिडिल ईस्‍ट में ट्रूप्‍स की संख्‍या बढ़ाने की कोई योजना नहीं है। मटीस के शब्‍दों में , 'इससे कुछ अच्‍छा होने वाला नहीं है तो बेहतर है कि इसे नजरअंदाज किया जाए। मुझे नहीं लगता कि मिडिल ईस्‍ट में हमें फिलहाल ट्रूप्‍स की संख्‍या बढ़ाने की कोई जरूरत है।' इस समय ईराक और सीरिया के अलावा अफगानिस्‍तान में भी अमेरिकी सेना है। मटीस के मुताबिक अमेरिका के पास हमेशा से ऐसा करने की क्षमता है लेकिन अभी इसे नजरअंदाज कर देना चाहिए क्‍योंकि इसकी कोई जरूरत नहीं है।

ईरान पर लगे प्रतिबंध

आपको बता दें कि ईरान के बैलिस्टिक मिसाइल टेस्‍ट के बाद राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप ने नए प्रतिबंध ईरान पर लगा दिए हैं। ईरान का कहना है कि उसने वर्ष 2015 में ओबामा प्रशासन के साथ हुई न्‍यूक्लियर डील का उल्‍लंघन नहीं किया है। लेकिन ट्रंप प्रशासन का कहना है कि ईरान का मिसाइल टेस्‍ट यमन में हाउदी विद्रोहियों की मदद के लिए हुआ है जिन्‍होंने हाल ही में सऊदी वॉरशिप को निशाना बनाया था। अमेरिका के रुख पर ईरान के विदेश मंत्रालय ने कहा है कि वह अमेरिका की ओर से कुछ ईरानियों और गैर-ईरानियों पर लगाए गए प्रतिबंधों का विरोध करेगा जो मिसाइल परीक्षण के बाद लगाए गए हैं। पढ़ें- अमेरिका के रक्षा मंत्री मटीस, जिन्‍हें लोगों को मारने में मजा आता है!

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
US Secretary of Defence James Mattis has called Iran, 'the world's biggest state sponsor of terrorism'.
Please Wait while comments are loading...