जेल में जगह बनाने के लिए 38,000 कैदियों को रिहा करेगा टर्की

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

अंकारा। टर्की ने एक अहम फैसले के तहत अपनी जेलों में बंद करीब 38,000 कैदियों को रिहा करने का फैसला किया है। टर्की ने यह कदम इसलिए उठाया है ताकि जेल में उन दोषियों को रखा जा सके जो तख्‍तापलट की कोशिशों में शामिल थे।

turkey-jail-prisoners

टर्की उन 38,000 कैदियों को रिहा करेगा जिनका बर्ताव अच्‍छा है और जिन्‍होंने दो वर्ष या इससे ज्‍यादा का समय जेल में बिताया है।

मर्डर, डोमेस्टिक वॉयलेंस, सेक्‍सुअल एब्‍यूज या फिर देश के खिलाफ राष्‍ट्रदोह का आरोप झेल रहे कैदियों को रिहा नहीं किया जाएगा।

टर्की के जस्टिस मिनिस्‍टर बेकिर बोजदाग ने अपने ट्विटर हैंडल से इस बात का ऐलान किया। उन्‍होंने लिखा कि जिन कैदियों को रिहा किया जाएगा उन्‍हें दया या फिर मानवाधिकार के तहत आजादी नहीं मिलेगी बल्कि एक शर्त के बाद रिहाई मिलेगी।

टर्की ने 15 जुलाई को तख्‍तापलट की असफल कोशिशों में करीब 35,000 लोगों को गिरफ्तार किया है। इससे पहले टर्की ने करीब 2,000 पुलिस ऑफिसर्स और सेना के सैंकड़ों ऑफिसर्स को सस्‍पेंड कर दिया था।

इससे पहले टर्की ने हजारों सुरक्षाकर्मियों को बर्खास्‍त कर दिया था। इसके साथ ही कई सिविल सर्वेंट्स भी या तो सस्‍पेंड किए जा चुके हैं या फिर उन्‍हें नौकरी से हटाया जा चुका है।

देश-दुनिया की तबरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Turkey has issued a decree that will pave the way for the conditional release of some 38,000 prisoners to reduce its prison population to make space for coup plotters.
Please Wait while comments are loading...