अब फ्लाइट में खड़े होकर सफर करेंगे लोग, एयरलाइंस ने शुरू की तैयारी

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। हर शख्स चाहता है कि उसका सफर आरामदेह हो। इसके लिए लोग पैसे खर्च करने में भी नहीं करताते है। बसों और ट्रेनों में आपको लोग खड़े होकर सफर करते हुए लोग दिख जाएंगे, लेकिन फ्लाइट के सफर में ऐसा नहीं होता। फ्लाइट में जितनी सीटें होती है उतने ही यात्रियों की टिकट बुकिंग होती है। वहां खड़े होकर सफर करने का कोई विकल्प नहीं है। अगर आप भी विमान में सफर को लेकर ऐसा सोचते हैं तो अब आपको अपनी सोच बदलनी चाहिए, क्योंकि बहुत ही जल्द विमान में भी आपको लोग खड़े होकर सफर करते हुए दिखने लगेंगे।

 फ्लाइड में खड़े-खड़े करना होगा सफर

फ्लाइड में खड़े-खड़े करना होगा सफर

अमेरिका की एक एयरलाइन यात्रियों को खड़े-खड़े यात्रा कराने की तैयारी कर रही है। जी हां ये एयरलाइंस इस दिशा में काम कर रहा है कि यात्री सफर के दौरान खड़े होकर अपनी पूरी यात्रा तय करें। विमान कपंनी के इस फैसले को लेकर लोगों में भी उत्साह है। उनका कहना है कि इस बात से क्या फर्क पड़ता है कि एक घंटे की उड़ान के लिए आपको इंटरटेनमेंट सिस्टम नहीं मिल रहा है या फ्लोर पर मार्बल नहीं है।

 सुविधा और सस्ता सफर

सुविधा और सस्ता सफर

VivaColombia नाम की एयरलाइंस कंपनी इस दिशा में काम कर रही है, जहां यात्रियों को सुविधा से ज्यादा सस्ती फ्लाइट मुहैया कराने के लिए योजना तैयार की जा रही है। इसके लिए विमान कंपनी लोगों को खड़े होकर सफर करने का विकल्प देगी। विमान कंपनी का मानना है कि इससे लोगों को सस्ते में विमान में सफर करने का मौका मिलेगा। वहीं विमान कंपनी को भी अधिक टिकट बिक्री से मुनाफा होगा। इसके लिए इसके लिए 50 नए एयरबस प्लेन को शामिल करने जा रही है।

 पहले भी की गई थी कोशिश

पहले भी की गई थी कोशिश

आपको बता दें कि यह पहली बार नहीं है जब किसी विमान कंपनी ने यात्रियों को खड़े कराकर सफर करने का आईडिया दिया हो। इससे पहले साल 2003 में इस पर विचार किया गया था। लेकिन उस वक्त ये सफर न हो सका। अब वीवा कोलंबिया के जरिए इसे अमल में लाया जा रहा है।

देश-दुनिया की तबरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
the United passenger fiasco, racist flight attendants, or the TSA being up to their regular scumbaggery, it's almost as if there's a worldwide campaign against passenger comfort and safety.
Please Wait while comments are loading...