व्हिसलब्लोअर ऑस्ट्रेलिया को देगा स्कॉर्पीन लीक डेटा की डिस्क

Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। स्कॉर्पीन मरीन के दस्तावेजों के लीक होने के पीछे का व्हिसलब्लोअर सोमवार को ऑस्ट्रेलिया की सरकार को पनडुब्बी की डिस्क सौंपेगा। यह खुलासा किया है ऑस्ट्रेलिया के अखबार द ऑस्ट्रेलियन का। इस डिस्क में भारतीय पनडुब्बी की क्षमता और विशेषता की जानकारी देने वाले हजारों पेज मौजूद हैं।

marin

यह भी बताया जा रहा है कि इस व्हिसलब्लोअर की पहचान के बारे में ऑस्ट्रेलिया की सरकार पहले से ही जानती है। अखबार के वीकेंड एडिशन में कहा गया है कि इस लीक के बारे में सोमवार दोपहर तक न तो भारत को पता था और न ही फ्रांस को, जब तक कि फ्रैंच फर्म डीसीएनएस से इस लीक पर टिप्पणी करने को नहीं कहा गया।

डाटा लीक पर बोले पर्रिकर- चिंता की कोई बात नहीं

अखबार का कहना है कि व्हिसलब्लोअर ऑस्ट्रेलिया को सिर्फ इतना बताना चाहता है कि उसकी भविष्य की पनडुब्बियों का पार्टनर फ्रांस भारत की नई पनडुब्बियों के गुप्त डेटा पर से अपना कंट्रोल खो चुका है।

वर्ष 2011 में ही चोरी हो गए थे स्‍कॉर्पीन पनडुब्‍बी के डॉक्‍यूमेंट्स!

अखबार के अनुसार व्हिसलब्लोअर को उम्मीद है कि इससे सरकार और डीसीएनएस 50 अरब डॉलर से बनने वाली ऑस्ट्रेलिया की पनडुब्बियों के गुप्त डेटा की सुरक्षा के लिए महत्वपूर्ण कदम उठाने के लिए प्रेरित होंगे, ताकि ऑस्ट्रेलिया की पनडुब्बियों को इस तरह की परेशानी का सामना न करना पड़े।

द ऑस्ट्रेलियन अखबार ने स्कॉर्पीन सबमरीन्स के कुछ नए दस्तावेज किए ऑनलाइन

अखबार ने कहा है कि उसने (व्हिसलब्लोअर ने) कोई भी कानून नहीं तोड़ा है और ऑस्ट्रेलिया की अथॉरिटीज इस बारे में जानती हैं। वह सोमवार को सरकार को डिस्क सरेंडर करने की योजना बना रहा है।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
the whistleblower give a disc to australian government of scorpene data. this disc is having thousand of pages about scorpene submarine.
Please Wait while comments are loading...