अब ट्रेन में टिकट की नहीं होगी जरूरत, चिप के होगी पेमेंट, जानें कैसे?

By:
Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। ट्रेन की टिकट हासिल करना किसी चुनौती से कम नहीं। घंटों तक लाइन में खड़े होकर लोगों को टिकट लेना पड़ता है। अगर आपको भी इस तरह की परेशानी से कभी दो-चार होना पड़ा हो तो ये खबर आपके लिए राहत की है। अब ट्रेन की टिकटों के लिए लाइन नहीं लगानी पड़ेगी। आप चिप की मदद से अपने किराए का भुगतान कर पाएंगे। हलांकि ये सुविधा अभी आपको भारत में नहीं मिल पाएगी।

 ट्रेन में टिकट की जरूरत नहीं

ट्रेन में टिकट की जरूरत नहीं

स्वीडन में एक ऐसी ट्रेन है जिसमें अब आपको टिकट लेने की जरूरत नहीं पड़ेगी। इस ट्रेन में सफर करने के लिए आपको टिकट के बजाए एक चिप की जरूरत होगी, जिसकी मदद से आप पेमेंट कर सकेंगे। इस चिप की मदद से लोग अपने किराए का पेमेंट कर सकेंगे।

 दुनिय़ा में पहली बार हो रहा है ऐसा

दुनिय़ा में पहली बार हो रहा है ऐसा


स्वीडन के रेल ऑपरेटर एस जे के मुताबिक ऐसा दुनिया में पहली बार हो रहा है, जहां लोगों के हाथ में लगाई गई चिप से किराए का पेमेंट लिया जा रहा है। उनके मुताबिक स्वीडन में 20000 से ज्यादा लोग ऑफिस में एंट्री के लिए चिप इस्तेमाल कर रहे हैं, खाने के पेमेंट के लिए चिप का इस्तेमाल करते है, इसलिए रेलवे ने खुद को इस सुविधा से जोड़ा, ताकि लोगों को सहूलियत हो सके।

 हाथों में लगाया जाता है चिप

हाथों में लगाया जाता है चिप

इसके लिए लोगों के हाथों में बायोमेट्रिक चिप लगाए जाते हैं। चिप में एनएफसी यानी की नियर फील्ड कम्युनिकेशन टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल होता है। इस चिप की मदद से लोग अपने किराए का पेमेंट ठीक वैसे ही कर पाते हैं जो कि मोबाइल पैमेंट में होती है। चिप स्कैन करने के बाद किराए का भुगतान हो जाता है। स्वीडन में इन दिनों इस चिप सिस्टम को लोग खूब पसंद कर रहे हैं।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Swedish rail company is offering passengers the option of using a biometric chip implanted into their hand in lieu of a paper train ticket.
Please Wait while comments are loading...