नेपाल में बोले राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी, आतंक के पनाहगारों को अलग करना होगा

तीन दिन के नेपाल दौरे पर हैं राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी।

By:
Subscribe to Oneindia Hindi

नेपाल। तीन दिन के नेपाल दौरे पर गए भारत के राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने काठमाण्डू में 'नीति अनुसन्धान प्रतिष्ठान नेपाल' सेमिनार को संबोधित करते हुए नेपाल को भारत की तरफ से हर संभव मदद का भरोसा दिलाया तो वहीं आतंकवाद का जिक्र करते हुए पाकिस्तान पर भी निशाना साधा।

pranab

राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने काठमाण्डू में कहा कि भूकंप में हुई भयकर तबाही के बाद पुणर्निर्माण के दौर से गुजर रहे नेपाल की हर तरह की सहायता के लिए भारत प्रतिबद्ध है।

राष्ट्रपति ने कहा कि भारत अपने पड़ोसियों के साथ सहयोग बढ़ाने का हिमायती रहा है। प्रणब मुखर्जी ने पाकिस्तान पर निशाना साधते हुए कहा कि आपसी सहयोग और आतंकवाद एक साथ संभव नहीं है।

तीन गुना बढ़ेगा राष्ट्रपति और उपराष्ट्रपति का वेतन, जानिए कितनी होगी नई सैलेरी

18 साल बाद हो रहा भारत के राष्ट्रपति का नेपाल दौरा

प्रणब मुखर्जी ने कहा कि जो लोग आतंकवाद को बढ़ावा देते हैं, दुनिया को उनकी पहचान करनी चाहिए और उन्हें अलग-थलग करना चाहिए।

नेपाल ने सुखाई एवरेस्ट के पास स्थित झील, खतरे में थीं कई जानें

राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी बुधवार से नेपाल की तीन दिन की राजकीय यात्रा पर हैं। पिछले 18 सालों में यह किसी भारतीय राष्ट्रपति की पहली नेपाल यात्रा है।

बुधवार को नेपाल पहुंचने पर प्रणब मुखर्जी का भव्य स्वागत हुआ। राष्ट्रपति नेपाल के शीर्ष नेताओं से बातचीत के साथ-साथ नेपाल के प्राचीन मंदिरों और स्मारकों पर भी जाएंगे।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
President Pranab Mukherjee address at the India Foundation Neeti Anusandhan Pratishthan Nepal seminar
Please Wait while comments are loading...