राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप और पीएम मोदी की विनिंग स्‍पीच की पांच एक जैसी बातें!

अमेरिकी राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तरह अपने भाषण चुनी हुई सरकार को देश की और देश के लिए काम करने वाली सरकार बताया।

By:
Subscribe to Oneindia Hindi

वॉशिंगटन। आखिरकार 20 जनवरी को नए अमेरिकी राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप ने अमेरिका के 45वें राष्‍ट्रपति के तौर पर शपथ ले ली। राष्‍ट्रपति ट्रंप के शपथ लेते ही अमेरिका में एक नए राजनीतिक अध्‍याय की शुरुआत हो गई। ट्रंप ने शपथ लेने के बाद 20 मिनट की स्‍पीच दी। इसे किसी अमेरिकी राष्‍ट्रपति की सबसे छोटी स्‍पीच बताया जा रहा है।

भारत में भी लोगों ने सुना ट्रंप को 

भारत समेत दुनिया भर के लोगों ने इस स्‍पीच को सुना और इसे सुनने के बाद लोगों को वर्ष 2014 एक बार फिर से याद आने लगा। मई 2014 को भारत में लोकसभा चुनावों के नतीजे आए और भारतीय जनता पार्टी को विशाल बहुमत मिला। गुजरात के मुख्‍यमंत्री रहे नरेंद्र मोदी देश के प्रधानमंत्री चुने गए। ट्रंप की स्‍पीच को सुनने के बाद भारत में लोगों को कुछ उन प्‍वाइंट्स की याद आई जो पीएम मोदी ने चुनाव जीतने के बाद अपने भाषणों में कहे थे। ट्रंप की तरह पीएम मोदी ने भी देश की जनता को सरकार के लिए अहम बताया। उन्‍होंने भी ट्रंप की तरह नई सरकार को जनता की सरकार करार दिया और खुद को प्रधान सेवक बताया। आइए आपको पीएम मोदी की विनिंग स्‍पीच और ट्रंप की इनॉग्रेल स्‍पीच में मौजूद कुछ एक जैसी बातों के बारे में बताते हैं।

मोदी के अच्‍छे दिन और ट्रंप अमेरिका को बनाएंगे महान

16 मई 2014 को पीएम मोदी ने जब अपने संसदीय क्षेत्र वडोदरा में जनता को संबोधित किया। अपने भाषण के आखिरी में उन्‍होंने कहा, 'अच्‍छे दिन आ रहे हैं।' इसी तरह से जब राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप ने कैपिटॉल हिल में अपनी इनॉग्रेल स्‍पीच दी तो उन्‍होंने कहा, 'अमेरिका फिर से जीतना शुरू करेगा और बिल्‍कुल ऐसा जैसा पहले कभी नहीं था। हम अपने देश की दौलत वापस लाएंगे और अपने सपनों को भी वापस लेकर आएंगे।' 

मोदी ने कहा उम्‍मीदों का फैसला, ट्रंप ने कहा सब बदल जाएगा

पीएम मोदी ने 20 मई को संसद के सेंट्रल हॉल में भाषण दिया। यहां पर उन्‍होंने कहा कि यह लोकसभा चुनाव उम्‍मीदों का चुनाव था। यह फैसला उम्‍मीद में दिया गया एक फैसला है। अब एक आम आदमी में नई उम्‍मीद जागी है और यही इन चुनावों की अहमियत है। अब जिम्‍मेदारी का एक नया युग शुरू हुआ है। ट्रंप ने शपथ लेने के बाद कहा आज के समारोह का एक अलग अर्थ है। आज से सब बदल जाएगा। यह पल आपका पल है और यह पल और प्रशासन आपका है। यह अमेरिका आपका देश है। 

मोदी ने कहा गरीबों की सरकार, ट्रंप ने कहा जनता की सरकार

पीएम मोदी ने चुनाव जीतने के बाद कहा कि यह सरकार उन लोगों की सरकार है जिनकी वजह से उन्‍हें इतनी बड़ी जीत मिली है। यह सरकार उनकी सरकार है और उनके सपने हमारी जिम्‍मेदारी है। यह सरकार गरीबों की सुनेगी और उनके लिए ही काम करेगी। ट्रंप ने कहा कि इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि कौन सी पार्टी सरकार चला रही है लेकिन अहमियत इस बात की है कि इस पर जनता का कोई हक या नहीं। क्‍या जनता इस सरकार को नियंत्रित करती है, यह अहम है। 20 जनवरी 2017 को एक ऐसे दिन के तौर पर याद किया जाएगा जब देश की जनता को फिर से देश का शासक बनाया जाएगा। फिर से भुला दिए गए लोगों को वापस लाया जाएगा। 

पीएम मोदी और ट्रंप ने मांगा सबका साथ

पीएम मोदी ने वडोडरा में कहा कि वह सभी भारतीयों को बताना चाहे हैं कि वह सभी भारतीयों के साथ मिलकर देश को तरक्‍की के रास्‍ते पर लेकर जाएंगे। हर मतदाता नरेंद्र मोदी बन गया है। ट्रंप ने अपनी स्‍पीच में कहा कि हम साथ में मिलकर अमेरिका को फिर से मजबूत बनाएंगे।आज हम सत्‍ता का हस्‍तांरण एक प्रशासन से दूसरे प्रशासन को नहीं कर रहे बल्कि सत्‍ता वाशिंगटन से निकलकर आप लोगों को दी जा रही है। 

मोदी ने खुद को कहा प्रधान सेवक ट्रंप ने 'देशसेवक'

पीएम मोदी ने चुनाव जीतने के बाद कहा था कि उन्‍हें देश के लिए जान देने का मौका तो नहीं मिला लेकिन उन्‍हें देश के लिए जीने का मौका मिला है। वह देश के लोगों की सेवा करते रहेंगे। ट्रंप ने कहा मैं अपनी आखिरी सांस तक देश और अमेरिका के लोगों के लड़ूंगा। कभी देश के लोगों को निराश नहीं करूंगा।

 

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Similarities between President Donald Trump and Prime Minister Narendra Modi's fist speech after winning elections.
Please Wait while comments are loading...