पाकिस्‍तान से आने वाले नागरिकों की टेंशन बढ़ाएगा राष्‍ट्रपति ट्रंप का आदेश!

अमेरिकी राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप ने साइन किया एग्जिक्‍यूटिव ऑर्डर, कई मुसलमान देशों से आने वाले लोगों पर लगेगा प्रतिबंध। पाकिस्‍तान, अफगानिस्‍तान और सऊदी अरब का नंबर आ सकता है सबसे पहले।

By:
Subscribe to Oneindia Hindi

वॉशिंगटन। बुधवार को अमेरिकी राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप ने मुसलमान देशों से आने वाले नागरिकों पर सख्‍ती करने से जुड़े एक आदेश को साइन कर दिया है। राष्‍ट्रपति ट्रंप ने इस ऑर्डर को जरूरी करार दिया है और अपनी इस योजना को बचाव भी किया है। राष्‍ट्रपति ट्रंप को अमेरिका के 45वें राष्‍ट्रपति के तौर पर शपथ लिए हुए एक हफ्ते हो गए हैं। उन्‍होंने 20 जनवरी को शपथ ग्रहण की थी।

president-trump-muslim-entry-executive-order-डोनाल्‍ड-ट्रंप-मुसलमान-एंट्री-ऑर्डर.jpg

हर किसी की होगी जांच

राष्‍ट्रपति ट्रंप ने कहा है कि दुनिया इस समय मुश्किल में है। एबीसी न्‍यूज को दिए इंटरव्‍यू में ट्रंप ने कहा, 'हम कुछ निश्चित देशों को बाहर रख रहे हैं लेकिन बाकी देशों की हम कड़ी जांच करेंगे। आने वाले समय में जांच प्रक्रिया और मुश्किल होने वाली है। ' जब उनसे पूछा गया कि पाकिस्‍तान, अफगानिस्‍तान और सऊदी अरब जैसे देश भी उनकी लिस्‍ट में हैं, उन्‍होंने जवाब दिया कि आपको जल्‍द पता लगेगा। अगर हमें किसी भी देश के नागरिक पर जरा भी इस बात का शक हुआ कि वह नागरिक समस्या बन सकता है तो फिर उसे अमेरिका में एंट्री नहीं मिलेगी।

आतंकवाद को बढ़ावा देने वाले देश बैन

हालांकि उन्‍होंने इस बारे में जानकारी देने से साफ इंकार कर दिया कि वह किन मुसलमान देशों की बात कर रहे हैं। उन्‍होंने इस बात से साफ इंकार किया कि यह बैन मुसलमानों पर लगने वाला बैन है। उन्‍होंने कहा कि यह मुसलमानों को बैन करने वाला बैन नहीं है बल्कि यह उन देशों पर बैन होगा जहां पर आतंकवाद चरम पर है। इस बात से अंदाजा लगाया जा सकता है कि ट्रंप पाकिस्‍तान के नागरिकों पर भी सख्‍ती अपना सकते हैं। राष्‍ट्रपति ट्रंप ने कहा वर्तमान समय में प्रक्रिया काफी सरल है लेकिन आने वाले समय में यह और सख्‍त होने वाली है। उन्‍होंने सख्‍त लहजे में कहा कि वह अमेरिका में आतंकवाद बिल्‍कुल नहीं चाहते हैं। राष्‍ट्रपति ट्रंप ने दिसंबर 2015 में कैलिफोर्निया के सैन बरनार्डिनो और 9/11 का उदाहरण दिया।

कैसा है ट्रंप का यह ड्राफ्ट

जब उनसे पूछा गया कि उनका फैसला दुनिया के मुसलमानों का गुस्‍सा बढ़ा सकता है। इस पर उन्‍होंने जवाब दिया, 'अभी चारों तरफ पहले से ही काफी गुस्‍सा है। पूरी दुनिया में इस समय अव्‍यवस्‍था कायम है। पूरी दुनिया इस समय गुस्‍से में है।' अमेरिकी मीडिया की ओर से राष्‍ट्रपति ट्रंप की ओर से साइन किए ड्राफ्ट की जानकारी दी गई है। इस ड्राफ्ट के मुताबिक सीरिया से आने वाले शरणार्थियों को अनिश्चित काल के लिए बैन किया जाएगा। अमेरिका का रिफ्यूजी एडमिशन प्रोग्राम भी 120 दिनों के लिए सस्‍पेंड किया जाएगा। साथ ही इराक, सीरिया, ईरान, सूडान, लीबिया और यमन जैसे आतंकी खतरों वाले देशों के लिए सभी वीजा एप्‍लीकेशंस को 30 दिनों के लिए रोक दिया जाएगा। पढ़ें-एक लाख करोड़ रुपए की कीमत वाली मैक्सिको के बीच बॉर्डर वॉल

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
President Donald Trump is ready to restrict entry of Muslims coming from Afghanistan and Pakistan and Saudi Arabia.
Please Wait while comments are loading...