आपके पास है सैमसंग का ये मॉडल तो सफर से पहले हो जाएं सतर्क

Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। सैमसंग गैलेक्सी नोट 7 के संबंध में अमेरिका के फेडरल एविएशन एडमिनिस्ट्रेशन ने बाद भारत ने भी इसको लेकर चेतावनी जारी कर दी है।

[DGCA की ओर से कहा गया है कि यात्री यात्रा के दौरान सैमसंग गैलेक्सी नोट 7 का प्रयोग न करें। अ

samsung 7

कहा गया है कि वो न तो इस दौरान फोन ऑन करें और न ही उसे चार्ज करें। बताया जा रहा है कि फोन को चार्ज करने या फिर ऑन रखने के दौरान आग लग जा रहीहै।

ऐसे में फेडरेशन हवाई यात्रा के दौरान कोई जोखिम नहीं उठाना चाहता।

कश्मीर हिंसा: बुरहान वानी के पिता ने कहा- कोई बेटा मां-बाप की मर्जी से बंदूक नहीं उठाता

इस हिदायत के बाद सैमसंग के लिए दुनिया भर में बिके लाखों फोन को रिप्लेस करना सिरदर्द के बराबर हो गया है।

इन कंपनियों ने भी उठाए कदम

इस बात की हिदायत सिर्फ अमेरिका ही नहीं बल्कि कई अन्य अंतरराष्ट्रीय एयरलाइन्स कंपनियों ने भी इस मसले पर कदम उठाए हैं।

किसान यात्रा लेकर फैजाबाद पहुंचे राहुल, हनुमानगढ़ी भी गए

सिंगापुर एयरलाइंस, ऑस्ट्रेलिया की क्वांटस और वर्जिन ने भी इस अपने यात्रियों को बताया है कि वो सैमसंग गैलेक्सी नोट 7 को न ही ऑन करें और न ही उड़ान के दौरान उसे चार्ज करें।

हालांकि अमेरिकी एविएशन की ओर इस मुद्दे पर की गई घोषणा के बाद अन्य एयरलाइन कंपनियों की राय सामने नहीं आई है।

एयरलाइन कंपनी डेल्टा ने एक बयान में कहा है कि फेडरेशन की ओर से मिले निर्देशों पर अभी अध्ययन किया जा रहा है। वहीं एएल ने कहा कि इस मुद्दे पर वो फेडरेशन के टच में हैं।

ये है दक्षिण कोरिया का कहना

रोड शो में 10 मिनट तक फंसी रही एंबुलेंस, राहुल ने हटवाई भीड़

वहीं सैमसंग के हमवतन दक्षिण कोरिया की कोरियन एयर ने कहा कि यह कोई मामला नहीं है कि दूसरी एयरलाइन कंपनियां नोट 7 को अपने जहाजों में लाने या उपयोग करने से रोक रही हैं।

अधिकारियों ने कहा कि उन्होंने गुरुवार (8 सितंबर) को सैमसंग के प्रतिनिधियों से मुलाकात की और इस फोन के संबंध में कोई दिशानिर्देश नहीं जारी किए।

सैमसंग ने कहा कि वो 10 देशों से 2.5 मिलियन नोट 7 को वापस मंगाएगी और उन्हें रिप्लेस करेगी।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Passengers warned not to use Samsung Galaxy Note 7.
Please Wait while comments are loading...