मां-बाप ने पार की हैवानियत की हदें, 15 साल तक किया अपनी ही बेटी का रेप और टॉर्चर

बेटी से रेप और टॉर्चर के आरोपी 59 वर्षीय पिता और 51 वर्षीय मां को कोर्ट ने क्रमश: 48 साल और 16 साल जेल की सजा सुनाई है।

Subscribe to Oneindia Hindi

सिडनी। ऑस्ट्रेलिया में एक बच्ची के साथ उसके मां-बाप ने ऐसी दरिंदगी की जिसे जानकर हर कोई हैरान है। आरोपी मां-बाप ने 15 साल तक अपनी बेटी का न सिर्फ यौन उत्पीड़न किया बल्कि उससे टॉर्चर भी करते रहे।

बेटी से रेप और टॉर्चर के आरोपी 59 वर्षीय पिता और 51 वर्षीय मां को कोर्ट ने क्रमश: 48 साल और 16 साल जेल की सजा सुनाई है। दोनों ने बेटी को मुर्गी पालने वाले लकड़ी के बाड़े में 15 साल तक कैद कर रखा और वहीं उसके साथ दरिंदगी की।

 पीड़िता ने खुद की थी पुलिस से शिकायत

पीड़िता ने खुद की थी पुलिस से शिकायत

साल 2012 में हिम्मत जुटाकर पीड़िता ने खुद पुलिस को अपने साथ हो रही ज्यादती की जानकारी दी थी। उसने कई बार अपने खून से चिट्ठी लिखकर इस ज्यादती की जानकारी पुलिस को देने की कोशिश की थी। मामले की सुनवाई के दौरान कोर्ट ने पिता की हरकतों को कोसा और कहा कि उसकी करतूत शर्मसार कर देने वाली है। उसने जो किया वह लड़की के लिए जीवन भर एक सदमे की तरह रहेगा। जज ने कहा, 'सजा काटने के दौरान अगर आरोपी की मौत जेल में हो जाती है तो ही बेहतर होगा। यही उसके किए की असली सजा होगी।'

पढ़ें: पति ने नींद में बनाए शारीरिक संबंध, पत्नी ने दर्ज कराया रेप का केस

फैसला सुनाने में लगे 20 मिनट

फैसला सुनाने में लगे 20 मिनट

जज ने इस मामले में फैसला सुनाने में 20 मिनट का समय लिया। आरोपी पिता पर 76 आरोप साबित हुए जिसके लिए 999 साल और 4 महीने जेल की सजा का प्रावधान है। इसके तहत कम से कम 36 साल उसे जेल में रहना होगा। 13 मामलों में आरोपी साबित हुई मां को भी कम से कम 13 साल जेल में बिताने होंगे। इसके साथ ही वह अपने पति को तलाक भी देने जा रही है। कोर्ट ने कहा कि बिना किसी कारण के उन्होंने बेटी का इतने सालों तक मानसिक और शारीरिक शोषण किया।

पढ़ें: प्रेमी को दिखाने के लिए चलती कार में खींच रही थी टॉपलेस सेल्फी

बेटी के नाजुक अंगों में डाला मेटल रॉड

बेटी के नाजुक अंगों में डाला मेटल रॉड

पीड़िता के मुताबिक, उसके पिता ने पांच साल की उम्र में ही उसका उत्पीड़न शुरू कर दिया था और यह शर्मनाक हरकत उसके 18 साल की उम्र पार करने तक चलती रही। पीड़िता की मां ने एक चिट्ठी लिखकर यह बताने की कोशिश की कि वह अपने बच्चों से कितना प्यार करती है और उसके बच्चे उसके लिए प्रेरणा हैं। उसने कोर्ट में खुद पर लगे आरोपों को खारिज किया था। 15 साल तक चले इस टॉर्चर के दौरान लड़की के साथ मां-बाप ने रेप किया, उसके प्राइवेट पार्ट्स में मेटल की रॉड डाल दी, उसके बिजली के वायर से बांध रखा और यहां तक कि उसे उल्टी खाने को मजबूर कर दिया। आरोपी मां ने खुद बेटी को पिता के साथ शारीरिक संबंध बनाने के लिए भी मजबूर किया।

पढ़ें: मुलायम-शिवपाल रह गए पीछे, अखिलेश यादव ने मार ली बाजी

फादर्स डे पर भी किया बेटी से रेप

फादर्स डे पर भी किया बेटी से रेप

आरोपी महिला ने बेटी को सेक्स के दौरान कुछ टिप्स आजमाने की भी सलाह दी थी। कोर्ट ने सजा सुनाते हुए कहा कि आरोपी को तब तक जेल से बाहर न किया जाए जब तक उसकी मौत न हो जाए। कोर्ट ने सजा सुनाते हुए बताया कि यह साबित हुआ कि आरोपी ने त्योहारों के मौके पर बेटी के साथ रेप किया। यहां तक कि फादर्स डे पर भी उसने बेटी के साथ दरिंदगी की।

पढ़ें: सेक्स रैकेट में फंसी मॉडल ने कहा- पुलिसवाले मेरे साथ बनाना चाहते थे संबंध

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Australian mother and father jailed for rape and torture of their daughter for 15 years.
Please Wait while comments are loading...