बलूचिस्तान में अफगानियों ने जलाया पाकिस्तानी झंडा, सीमा हुई सील

Subscribe to Oneindia Hindi

इस्लामाबाद। पाकिस्तान ने शुक्रवार को अफगानिस्तान से सटी अपनी सीमाएं अनिश्चितकाल के लिए बंद कर दी हैं। पाकिस्तान ने यह कदम गुरुवार को कुछ अफगानी नागरिकों द्वारा पाकिस्तानी झंडा जलाए जाने के बाद उठाया है। इस घटना के बाद से ही दोनों देशों के बीच व्यापार रुक गया है। साथ ही अफगानिस्तान में नाटो बलों को सामान पहुंचाने वाले ट्रकों की आवाजाही भी रुक गई है।

pak army

सूत्रों के अनुसार अपने देश का 97वां स्वतंत्रता दिवस मना रहे कुछ अफगानी लोग सीमा पर एकत्र हो गए। वे मैत्री द्वार के पास जमा थे। हाथों में बैनर और तख्तियां लिए वे लोग पाकिस्तान विरोधी नारे लगा रहे थे और साथ ही साथ भारत के पक्ष में भी नारेबाजी कर रहे थे। वे भारत के पक्ष में नारे पीएम मोदी द्वारा बलूचिस्तान संबंधी टिप्पणियों का पाकिस्तान की तरफ से विरोध किए जाने के चलते लगा रहे थे।

पूर्व अफगान राष्‍ट्रपति हामिद करजई ने बलूचिस्‍तान पर की मोदी की तारीफ

इसके कुछ ही क्षणों बाद उन्होंने मैत्री द्वार पर पत्थर फेंकने शुरू कर दिए। तभी अफगानी प्रदर्शनकारियों में से एक व्यक्ति ने मैत्री द्वार के पास खड़े पाकिस्तानी प्रदर्शनकारी के हाथों से पाकिस्तानी झंडा छीना और उसे आग के हवाले कर दिया। इतना ही नहीं, अफगानिस्तान के प्रदर्शनकारियों ने जबरदस्ती द्वार में घुसने की कोशिश भी की थी, लेकिन उस द्वार को रैली के चलते पहले से ही बंद किया जा चुका था।

चार बार पाकिस्‍तान से भारत आया था आईएसआई का हिंदू जासूस

इस घटना के बाद द्वार पर तैनात सुरक्षाकर्मियों ने अफगानिस्तान से लगी अपनी सीमा को अनिश्चितकाल के लिए बंद कर दिया और कहा कि इसे अब तभी खोला जाएगा जब हाईकमान से ऐसा करने के निर्देश मिलेंगे। आपको बता दें कि हर रोज करीब 10 से 15 हजार पाकिस्तानी और अफगानी नागरिक व्यापार के सिलसिले में सीमावर्ती शहरों में जाते थे, लेकिन सीमा बंद होने के बाद से आवागमन पूरी तरह से रुक गया है।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
pakistan closed its border after afghanistan protesters burn the pakistani flag. the border is been sealed for infinite.
Please Wait while comments are loading...