यूएन की इस्‍लामिक संस्‍था ने भी किया उरी आतंकी हमले का विरोध

By:
Subscribe to Oneindia Hindi

न्‍यूयॉर्क। उरी आतंकी हमले के बाद अंतराष्‍ट्रीय स्‍तर पर पाकिस्‍तान की फजीहत अभी और होना बाकी है। अमेरिका, रूस, ब्रिटेन, जर्मनी, चीन के बाद अब संयुक्‍त राष्‍ट्रसंघ के इस्‍लामिक संगठन इस्‍लामिक सहयोग संस्‍था (ओआईसी) ने उरी आतंकी हमले का विरोध किया है।

uri-terror-attack-pakistan-terrorists

भारत के एक्‍शन का समर्थन

संगठन के सदस्‍यों जैसे सऊदी अरब, संयुक्‍त अरब अमीरात यानी यूएई, कतर और बहरीन शामिल हैं। बहरीन और यूएई ने तो अपने बयान में भारत की ओर से होने वाली कार्रवाई का भी समर्थन किया है।

भारत के लिए यह एक अहम जीत मानी जा सकती है। इससे पहले अफगानिस्‍तान, बांग्‍लादेश और मालद्वीव ने भी इस आतंकी हमले का विरोध कर चुके हैं और दोनों ही इस संगठन में शामिल हैं।

आपको बता दें कि यूएई, पाक का मित्र देश है और उसकी ओर से ऐसी प्रतिक्रिया आना अपने आप में एक अहम बात है।

सार्क देशों ने भी किया विरोध

अफगानिस्‍तान के राष्‍ट्रपति अशरफ घनी ने तो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को फोन करके आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई में समर्थनक की बात कही थी।

साथ ही हमले का विरोध भी किया था। वहीं सार्क में शामिल सभी देश जैसे श्रीलंका, नेपाल और भूटान भी इस आतंकी हमले का विरोध कर चुके हैं।

कश्‍मीर को लेकर काफी मुखर ओआईसी

सरकार के सूत्रों की मानें तो ओआईसी काफी अहम संगठन है और यह संस्‍था पिछले दो माह से कश्‍मीर मुद्दे को लेकर काफी मुखर रही है।

सूत्रों की ओर से दी गई जानकारी पर अगर यकीन करें तो ओआईसी के सदस्‍यों का हमले को लेकर अपना विरोध जताना पाक को अलग-थलग करने में काफी अहम साबित होगा।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
United Nations Organisation of Islamic Cooperation (OCI) condemns Uri Attack.
Please Wait while comments are loading...