मोसुल को ISIS के कब्जे से छुड़ाने के लिए इराक ने छेड़ा अभियान, जारी गोलबारी

Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। इराक ने अपने शहर मोसुल को इस्लामिक स्टेट के कब्जे से आजाद कराने के लिए सोमवार (17 अक्टूबर) से सैन्य कार्रवाई शुरू कर दी। इसके तहत सुबह से ही भारी गोलाबारी हो रही है।

iraq

बता दें कि आईएसआईएस ने मोसुल को अपनी राजधानी घोषित कर रखा है।

जल्‍दी ठीक हो जाएं जयललिता इसलिए 24 घंटों तक कांटों पर सोया रहा समर्थक

विजयी अभियान की घोषणा

इराक के प्रधानमंत्री हैदर अल अबादी ने टीवी पर प्रसारित किए गए संदेश में कहा कि 'आज मैं दाएश को हिंसा और आतंकवाद से मुक्त करने के लिए इस विजयी अभियान की घोषणा करता हूं।'

दिल्‍ली पुलिस ने किया खुलासा, रंगदारी रैकेट का सरगना है AAP एमएलए गुलाब सिंह

बताया गया मोसुल में आईएस के खिलाफ हमला करने वाले इस अभियान में करीब 25,000 इराकी सैनिक शामिल हैं। वहीं इस बात की संभावना जताई जा रही है कि मोसुल में आईएसआईएस के करीब 8,000 लड़ाके मौजूद होंगे।

हमले की दी गई जानकारी

भारत के मुख्य आर्थिक सलाहाकार अरविंद सुब्रमण्यम का ट्वीटर एकाउंट हुआ हैक, ट्वीट हुईं गंदी तस्वीरें

बता दें कि मोसुल पर हमला करने से पहले वहां के निवासियों को पर्चों की मदद से इस हमले की जानकारी दी गई।

iraq

मोसुल पर आईएसआईएस का कब्जा 2014 से ही है। इस इलाके में करीब सात लाख लोगों की आबादी है। गौरतलब है कि इस शहर पर इराकी सैनिक हमला करने की योजना कई महीनों से बना रहे हैं।

हमले के अभियान में शामिल सैनिक मोसुल से 60 किलोमीटर दूर मौजूद क्याराह शहर के एयरबेस पर इकट्ठा हुए थे। इस शहर को भी इसी साल अगस्त में आईएसआईएस के कब्जे से छुड़ाया गया था।

खुफिया रिपोर्ट के बाद टीवी पत्रकार अर्नब गोस्वामी को दी जाएगी वाई श्रेणी की सुरक्षा

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Operation to retake Mosul has begun: Iraq PM on TV
Please Wait while comments are loading...