ओबामा ने पुतिन से की 'आखिरी' मीटिंग, 4 मिनट तक हुई बात

Subscribe to Oneindia Hindi

पेरू। रविवार को अमेरिका के राष्ट्रपति ने रूस के राष्ट्रपति व्लादिमिर पुतिन के साथ अपनी आखिरी मीटिंग की। इस मीटिंग में दोनों के बीच करीब 4 मिनट तक बात हुई थी। इस मुलाकात में दोनों देशों के बीच मतभेदों पर बात की गई।

obama putin

कानपुर ट्रेन हादसे में मरने वालों की संख्या 121 हुई

पेरू की राजधानी लीमा में हुई इस अंतरराष्ट्रीय एशिया-प्रशांत आर्थिक सहयोग (APEC यानी एपेक) समिट में ओबामा ने व्लादिमिर पुतिन से कहा कि वाशिंगटन और मॉस्को को साथ काम करने की जरूरत है। ऐसा इसलिए ताकि सीरिया में हो रही हिंसा और लोगों को हो रही परेशानियों पर लगाम लगाई जा सके।

आपको बता दें कि रूस की सेना सीरिया के राष्ट्रपति बशर अल असद की सेना को मदद मुहैया करा रहा है, जबकि अमेरिका वहां के विद्रोहियों को मदद पहुंचाता है।

वाइट हाउस के अनुसार दोनों राष्ट्रध्यक्षों के बीच यह 'इनफॉर्मल' मीटिंग चार मिनट तक चली। इस मीटिंग में रूस द्वारा यूक्रेन में रूसी सेना के अतिक्रमण को लेकर भी चर्चा की गई।

8 करोड़ का कालाधन 400 खातों में जमा करवा दिया, जानें पूरा सच

शी जिनपिंग से भी की मुलाकात

पेरू की राजधानी लीमा में आयोजित एपेक समिट में ओबामा ने शनिवार को चीन के उनके समकक्ष शी जिनपिंग से भी मुलाकात की थी। इस मुलाकात में शी जिनपिंग ने नवनिर्वाचित राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की कोई बात नहीं की। साथ ही उन्होंने कहा कि दोनों देशों के बीच द्विपक्षीय संबंध एक ठहराव की स्थिति में है, लेकिन साथ ही उन्होंने इसमें बदलाव की उम्मीद भी जताई।

इंदौर-पटना एक्सप्रेस हादसा: रेलवे ने घायलों को बांट दिए 500 के पुराने नोट

वहीं ओबामा ने कहा कि अमेरिका-चीन संबंध दुनिया में सबसे अधिक जरूरी है। वे बोले कि पिछले कुछ सालों में दोनों देशों के विकास, ईरान को परमाणु हथियार विकसित करने से रोकने, इबोला की महामारी और जलवायु परिवर्तन के खिलाफ लड़ाई जैसी कई चुनौतियों से निपटने के मामले में एक प्रभावी भागीदारी स्थापित की है।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Obama and Putin meet on sidelines of APEC summit
Please Wait while comments are loading...