सूर्य में हुआ धरती के आकार से भी बड़ा छेद, तूफान आया तो सबकुछ कर देगा तबाह

Written By: Amit
Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। अमेरिका की रिसर्च एजेंसी नासा (नेशनल एरोनॉटिक्स एंड स्पेस एडमिनिस्ट्रेशन) ने दावा किया है कि सूर्य में एक बहुत बड़ा छेद हो चुका है। इस छेद की चौड़ाई करीब 75,000 मील है जो कि पृथ्वी से भी बड़ा है। नासा की रिपोर्ट के अनुसार इस छेद से आसपास के कई उपग्रह नष्ट हो सकते हैं।

पृथ्वी से भी बड़ा है छेद

पृथ्वी से भी बड़ा है छेद

नासा के अनुसार सूर्य में जिस छेद का पता लगाया गया है उसका आकार करीब 1 लाख 20 किमी है। इस छेद की चौड़ाई पृथ्वी से भी बड़ी है और इसे पृथ्वी से भी देखा जा सकता है। वैज्ञानिकों ने यह भी माना कि सूर्य पर इतना बड़ा धब्बा इससे पहले कभी नहीं देखा गया था जो कि अब हम सब के लिए यह हैरान करने वाला है।

उठ सकती है आग की लपटें

उठ सकती है आग की लपटें

नासा के वैज्ञानिकों की मानें तो इस छेद से सौर तूफान उठ सकता है। और अगर ऐसा हुआ तो न सिर्फ सूर्य के आस-पास के उपग्रह नष्ट होंगे बल्कि पृथ्वी को भी इससे बड़ा नुकसान हो सकता है। वैज्ञानिकों के अनुसार अगर इस छेद से सौर तूफान आया तो आग की लपटें उठ सकती है जो कि पूरे ब्रम्हांड के लिए खतरनाक साबित हो सकता है।

बढ़ रहा है ये छेद

बढ़ रहा है ये छेद

आमतौर पर सूर्य के आस पास मैग्नेटिक एक्टिविटी होती रहती है जिसकी वजह से सौर तूफान आते हैं। उन सौर तूफानों की वजह से छेद तो होते हैं लेकिन वो स्वत: ही खत्म हो जाते हैं। लेकिन, सूर्य पर बना यह छेद, जो लगातार बढ़ता जा रहा है यह वैज्ञानिकों के लिए दिक्कतें पैदा कर रहा है।

नासा का स्टेटमेंट

नासा ने कहा 'सूर्य पर एक समूह के रूप में नया धब्बा देखा गया है जो लगातार बढ़ता जा रहा है। सूर्य के बिल्कुल साफ दिखाई देने के दो दिन बाद भी यह धब्बा वहीं का वहीं है, और फिलहाल यह एक ही धब्बा है जो दिखाई दे रहा है। अक्सर सूर्य पर धब्बा 42 घंटों के बाद अपने आप ही खत्म हो जाता है'।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
NASA finds huge hole on sun
Please Wait while comments are loading...