सजा से नाराज होकर मालदीप ने छोड़ा राष्ट्रमंडल

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। मालदीव ने खुद को राष्ट्रमंडल से अलग कर दिया है। राष्ट्रमंडल देशों के समूह द्वारा दी गई सजा से नाराज होकर मालदीप ने ये फैसला किया है। दरअसल साल 2012 में तत्कालीन राष्ट्रपति मोहम्मद नशीद के निर्वासन की स्थितियों और उसके बाद राजनीतिक उथलपुथल से निपट पाने की नाकामी के कारण समूह ने उसे दंडित करने का फैसला किया था। इसी से नाराज होकर मालदीप ने राष्ट्रमंडल को छोड़ दिया।

 maldives

मालदीव के विदेश मंत्री ने इस फैसले को कठिन लेकिन अपरिहार्य बताया। आप को बता दें कि पिछले महीने राष्ट्रमंडल के मंत्रीस्तरीय कार्रवाई समूह ने मालदीव में जारी राजनीतिक संकट का हल न कर पाने पर निराशा व्यक्त की और उसे राष्ट्रमंडल से निलंबित करने की चेतावनी दी थी।

जिसके बाद मालदीव ने कहा कि लोकतंत्र को बढ़ावा देने के नाम पर अंतरराष्ट्रीय राजनीति में संगठन की प्रासंगिकता में वृद्धि के लिए उनके देश का इस्तेमाल किया गया। आपको बता दें कि राष्ट्रमंडल 52 देशों का समूह है, जिसमें अधिकांश ब्रिटिश साम्राज्य के पूर्व उपनिवेश हैं।

देश-दुनिया की तबरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
The Maldives has announced it will leave the Commonwealth after mounting pressure from the 53-nation group over corruption and deteriorating human rights in the Indian Ocean state.
Please Wait while comments are loading...