अमेरिका में आईटी सेक्‍टर में नौकरी ढूंढ रहे लोगों का लगेगा झटका, कम हुई नौकरियां

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। अमेरिका के आईटी सेक्‍टर में नौकरी ढूंढ रहे लोगों के लिए सच में बुरी खबर है। एक साल के अंदर आईटी सेक्‍टर में पैदा होने वाली नौकरियों की संख्‍या आधी हो गई है। इस बात का दावा एक सलाहकार फर्म जानको एसोशिएट ने किया है।

it jobs

जानको एसोशिएट ने ब्‍यूरो ऑफ लेबर स्टैटिस्टिक्स के आंकड़ों का अध्‍ययन करने के बाद यह सर्वेक्षण जारी किया है। जानको ने इस सर्वेक्षण में पाया कि इस साल जनवरी से अक्टूबर के बीच 10 महीनों के दौरान अमेरिका में 66,600 नई आईटी नौकरियां के अवसर पैदा हुए। वहीं पिछले वर्ष 2015 में इन्‍हीं महीनों के बीच अमेरिका के आईटी क्षेत्र में 1,14,000 नौकरियां पैदा हुईं थीं।

दुनियाभर में इन क्षेत्रों में हैं नौकरी के भरपूर अवसर, नहीं मिल रहे लोग

जानको एसोशिएट के मुख्‍य कार्यकारी अधिकारी एमवी जैनेलेटिस ने कहा कि पिछले 24 महीने के आंकड़ों को देखें तो पता चलता है कि आईटी में नई नौकरियों का पैदा नहीं हो रही हैं। उन्होंने अपना अनुमान लगाते हुए बताया कि वर्ष 2016 में आईटी क्षेत्र में नौकरियों पैदा होने का स्‍तर वर्ष 2013 के स्‍तर पर जा सकता है।

सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद, अब अस्‍थायी कर्मचारियों को मिलेगी ज्‍यादा सैलरी

जानको के अध्‍ययन में यह बात सामने आई है कि वर्ष 2013 में आईटी सेक्‍टर में 75,000 नई नौकरियां पैदा हुई थीं। जबकि वर्ष में 2014 में 130,000 नई नौकरियां और वर्ष 2015 में 1,12,500 नई नौकरियां आईटी क्षेत्र में पैदा हुई थीं। इसके पीछे मुख्‍य कारण आर्थिक नियम हैं। साथ ही ब्रेक्जिट से जुड़ी अनिश्चितताओं के चलते कम नौकरियों को कम किया जाना एक कारण हो सकता है। इसके अलावा अमेरिकी राष्‍ट्रपति चुनाव, इमीग्रेशन पॉलिसी भी इस बाबत प्रभावकारी कारक रहे हैं।

अमेरिकी बाजार में वर्ष 2017 में भी आईटी सेक्‍टर में आने वाली नई नौकरियों को लेकर कोई अच्‍छी तस्‍वीर सामने नहीं आ रही है। उनके मुताबिक कई कंपनियां वर्ष 2017 में आर्थिक सुस्‍ती की आशंका के चलते अपने आगे के बजट को कम कर सकती हैं।

ताजा सर्वे में खुलासा, मोदी सरकार के आने के बाद भी नहीं कम हुई बेरोजगारी

देश-दुनिया की तबरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
IT sector jobs may be reduced just half comparing to last year in america
Please Wait while comments are loading...