चीन को डर, राफेल की तैनाती पाक-चीन सीमा पर कर सकता है भारत

Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। हाल ही में भारत ने फ्रांस के सात 36 राफेल विमानों का सौदा किया है।

rafale

इस डील के बाद चीन को इस बात का डर सता रहा है कि भारत परमाणु लैस 36 राफेल फाइटर जेट्स की तैनाती चीन और पाकिस्तान से लगी सीमाओं पर करेगा।

पाक ने आधिकारिक रूप से टाली SAARC की बैठक

यह बात चीन के सरकारी अखबार ग्लोबल टाइम्स में कही गई है। अखबार ने शेन्जेन टीवी के अनुसार लिखा है कि फ्रांस निर्मिचत लड़ाकू विमानों की तैनाती भारत, पाक और चीन के साथ विवादित क्षेत्रों में करेगा।

हथियार आयात करने में भारत सबसे ऊपर

अखबार में लिखा गया है कि स्टाकहोम इंटरनेशनल पीस रिसर्च इंस्टिट्यूट की हाल ही में आई एक रिपोर्ट के अनुसार भारत हथियारों को आयात करने के मामले में सबसे ऊपर है।

सर्जिकल स्ट्राइक: गृह मंत्रालय ने जारी की एडवाइजरी, सभी राज्य रहें सतर्क

लिखा गया है कि शेन्जेन टीवी की रिपोर्ट के अनुसार राफेल लड़ाकू विमान परमाणु हथियार ले जाने में सक्षम हैं। जिसका यह साफ मतलब है कि भारत की सुरक्षा क्षमताओं में काफी इजाफा हो जाएगा।

फ्रांस नहीं चाहता की भारत करे इस मामले में विकास

शंघाई इंस्टिट्यूट फॉर इंटरनेशनल स्टडीज के दक्षिण एशिया स्टडीज के निदेशक झाओ गनचेंग के अनुसार भारत डसॉल्ट से राफेल की तकनीक भी खरीदना चाहता था लेकिन फ्रांस ने इससे इन्कार कर दिया। जिसका सीधा मतलब है कि फ्रांस यह नहीं चाहता कि भारत अपने सैन्य औद्योगिक प्रणाली में सुधार करने में सक्षम हो।

हाफिज सईद ने दी धमकी, कहा अब हम बताएंगे कैसे होता है सर्जिकल स्ट्राइक, पाक सेना लेगी बदला

झाओं के अनुसार चीन के कई अन्य पड़ोसी देश भी हथियारों को आयात करने के मामले में टॉप 10 की सूची में शामिल है।

सीआरपीएफ और पुलिस पेट्रोलिंग टीम पर आतंकियों ने की फायरिंग

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Chinese media said 'India may deploy nuclear-capable Rafale jets on China, Pakistan borders'
Please Wait while comments are loading...