भारत-चीन विवाद: अब तक क्या-क्या हुआ?

Posted By: BBC Hindi
Subscribe to Oneindia Hindi
भारत-चीन
Getty Images
भारत-चीन

भारत और चीन के बीच भूटान सीमा पर जारी विवाद थमता हुआ नहीं दिख रहा है.

दोनों पक्षों के बीच आरोप-प्रत्यारोप और बयानबाज़ी का सिलसिला भी रुक नहीं रहा है. सोमवार को चीन के रक्षा मंत्रालय ने भारत को एक बार फिर चेतावनी दी.

चीन की तरफ से कहा गया कि अपनी सीमाओं की रखवाली करने के मामले में पीपुल्स लिबरेशन आर्मी की काबिलियत को लेकर भारत को किसी भ्रम में नहीं रहना चाहिए.

आइए जानते हैं कि दोनों पक्षों के बीच कब-कब क्या हुआ और क्या-क्या कहा गया.

24 जुलाई, 2017 - भारत को आगाह करते हुए चीन के रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता ने कहा, "पहाड़ को हिलाना आसान है लेकिन पीपुल्स लिबरेशन आर्मी को डिगाना मुश्किल."

19 जुलाई, 2017 - भूटान से लगती सीमा पर भारत के साथ बने तनाव के बीच चीन ने कहा कि अगर भारत सीमा पर 'सैनिक भेजकर राजनीतिक उद्देश्य पूरा करना चाहता है तो वो ऐसा न करे.'

16 जुलाई, 2017 - चीन के सरकारी मीडिया ने भारत को चेतावनी दी कि अगर उसने हिमालय में विवादित सीमा क्षेत्र से अपने सैनिकों को वापस नहीं बुलाया तो उसे शर्मिंदगी का सामना करना पड़ेगा.

10 जुलाई, 2017 - डोकलाम पर जारी विवाद के बीच चीनी मीडिया ने कहा कि पाकिस्तान की गुजारिश पर कोई तीसरा देश कश्मीर में दख़ल दे सकता है.

8 जुलाई, 2017 - भारत और चीन के बीच जारी सीमा विवाद के मद्देनज़र चीन ने भारत में रह रहे अपने नागरिकों से सचेत रहने को कहा.

7 जुलाई, 2017 - हैम्बर्ग में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और राष्ट्रपति शी जिनपिंग के बीच अनौपचारिक मुलाकात.

6 जुलाई, 2017 - चीन ने भारत पर पंचशील समझौते से पीछे हटने का आरोप लगाया. चीन ने ये भी कहा कि जर्मनी के हैम्बर्ग में जी-20 समिट के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और राष्ट्रपति शी जिनपिंग के बीच द्विपक्षीय मुलाकात के लिए माहौल सही नहीं है.

3 जुलाई, 2017 - जून के पहले हफ़्ते में भारतीय बंकरों को चीनी बुलडोजरों से गिराने की कथित घटना पर आई समाचार एजेंसी पीटीआई की रिपोर्ट का भारतीय सेना ने खंडन किया. सेना के प्रवक्ता ने पीटीआई से कहा कि 6 जून को ऐसी कोई घटना हुई ही नहीं थी.

30 जून, 2017 - मीडिया रिपोर्टों में कहा गया कि भारत और चीन ने उस जगह पर सैनिकों की तैनाती की जहां सिक्किम-भूटान-तिब्बत की सीमाएं मिलती हैं. चीन ने नाथू ला पास से होकर गुज़रने वाली कैलाश मानसरोवर यात्रा रद्द की. रक्षा मंत्री अरुण जेटली ने कहा कि 2017 का भारत 1962 के भारत से अलग है.

29 जून, 2017 - चीन ने भारत को 1962 के युद्ध की याद दिलाई. चीन ने भारत को युद्ध के शोर-शराबे से दूर रहने के लिए भी कहा. उधर, भूटान के विदेश मंत्रालय ने भी बयान जारी कर चीन से डोकलाम इलाक़े में यथास्थिति बरकरार रखने की उम्मीद जताई.

27 जून, 2017 - चीन ने भारतीय सेना पर सड़क निर्माण में बाधा का आरोप लगाया. चीन की तरफ से दावा किया गया कि सड़क निर्माण का काम उसके अपने इलाके में हो रहा था और भारत के इस क़दम से सीमा पर शांति को गंभीर नुकसान हुआ है.

20 जून, 2017 - चार दिन बाद भूटान ने नई दिल्ली स्थित चीनी दूतावास में इस पर प्रतिरोध जताया. भूटान का चीन के साथ कोई कूटनीतिक रिश्ता नहीं है.

16 जून, 2017 - रॉयल भूटान आर्मी ने डाकोला के डोकलाम इलाके में सड़क बना रहे चीनी सैनिकों को रोका. इस सड़क का रुख ज़ॉम्पेरी स्थित भूटान आर्मी कैंप की तरफ़ था.

9 जून, 2017 - शंघाई सहयोग संगठन में भारत पूर्ण सदस्य के तौर पर शामिल. अस्ताना में मोदी और शी जिनपिंग की मुलाक़ात.

8 जून, 2017 - सेना प्रमुख बिपिन चंद रावत ने कहा कि भारत चीन और पाकिस्तान से जंग के लिए तैयार है.

मई, 2017 - बीजिंग में चीन के 'वन बेल्ट वन रोड' परियोजना पर आयोजित समिट में भाग लेने से भारत का इनकार. भारत ने बयान जारी कर अपनी आपत्तियां गिनाईं.

2012 - भारतीय सेना ने भूटान-चीन सीमा की सुरक्षा के लिए डोकाला के लालटेन में एहतियाती इंतजाम के तौर पर दो बंकर बनाए.

6 जुलाई 2006 - सिक्किम में नाथू ला दर्रे को भारत-चीन कारोबार के लिए खोला गया. ये पहला मौका था जब दोनों देशों के बीच कोई सरहद खोली गई थी.

2003 - चीन ने सिक्किम को भारत के राज्य के तौर पर इस शर्त के साथ मान्यता दी कि भारत भी तिब्बत को आधिकारिक रूप से चीन के भूभाग का दर्जा देगा.

BBC Hindi
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
India-China controversy: What has happened so far?.
Please Wait while comments are loading...